खोज

बम मिस्साईलों से तबाह खारकीव बम मिस्साईलों से तबाह खारकीव   (AFP or licensors)

संत पापा ने क्रूरता का सामना कर रहे यूक्रेन के साथ निकटता व्यक्त किया

रविवारीय देवदूत प्रार्थना का पाठ करने के बाद, संत पापा फ्राँसिस ने एक बार फिर प्रचुर प्रार्थना और मानवीय एकजुटता के माध्यम से युद्धग्रस्त यूक्रेन के लोगों के लिए समर्थन का आह्वान किया।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, सोमवार 22 अगस्त 2022 (वाटिकन न्यूज)  : एक शब्द जिसे संत पापा फ्राँसिस अक्सर कहते हैं और दुनिया के साथ साझा करते हैं, वह है 'दृढ़ता'। वहीं 'स्थिरता' के बारे में कहा जा सकता है, कि संत पापा फ्राँसिस छह महीनों से अपने चिंतन में किसी भी अवसर में चाहे वह देवदूत प्रार्थना हो या आम दर्शन समारोह, सभी विशवासियों के साथ यूक्रेनी लोगों के लिए प्रार्थना और एकजुटता की अपील करते हैं।

संत पापा फ्राँसिस ने 5 जून के बाद से लगातार 13वीं बार, संत पेत्रुस महागिरजाघर के प्रांगण में एकत्रित विश्वासियों और तीर्थयात्रियों के साथ देवदूत का प्रार्थना का पाठ करने के बाद उनका अभिवादन करते हुए फिर से युद्ध संकट में पड़े यूक्रेनियो को याद करते हुए कहा, "आइए, हम यूक्रेन के प्रिय लोगों के साथ 'दृढ़ता से अपनी निकटता बनायें रखें और उनके के लिए प्रार्थना करें जो युद्ध की अत्यधिक क्रूरता का सामना कर रहे हैं।"

नागरिकों की मौत का सिलसिला जारी

जैसा कि रूसी गोलाबारी और यूक्रेनी सशस्त्र प्रतिक्रिया जारी है, जमीन पर आम लोग अक्सर उन क्षेत्रों के बीच में फंस जाते हैं जो जल्दी से संघर्ष की अग्रिम पंक्ति बन जाते हैं। यूक्रेनफोर्म द्वारा रिपोर्ट किया गया है कि जपोरिज्जिया क्षेत्रीय सैन्य प्रशासन क्षेत्र के प्रेस ने बताया कि कल अकेले 324 बच्चों सहित 1,000 से अधिक लोगों को रूसी सेना के कब्जे वाले परमाणु ऊर्जा संयंत्र के क्षेत्र से निकाला गया था। साथ ही, विभिन्न क्षेत्रों से युद्ध बुलेटिनों का आना जारी है जो प्रतिदिन कई नागरिक मौतों और घायलों की रिपोर्ट करते हैं, खासकर डोनेट्स्क क्षेत्र में।

 

Thank you for reading our article. You can keep up-to-date by subscribing to our daily newsletter. Just click here

22 August 2022, 20:28