खोज

आम दर्शन समारोह में संत पापा यूक्रेनी बच्चों के साथ आम दर्शन समारोह में संत पापा यूक्रेनी बच्चों के साथ  (Vatican Media)

यूक्रेन संघर्ष के छह महीने पूरे होने पर संत पापा ने पीड़ितों के लिए प्रार्थना की

संत पापा फ्राँसिस ने छह महीने से युद्ध की भयावहता से पीड़ित यूक्रेनी लोगों के लिए शांति के लिए प्रार्थना की, युद्ध को 'पागलपन' कहा। संत पापा ने कई यूक्रेनी और रूसी अनाथों को याद किया, पुतिन के विचारक की बेटी दरिया दुगीना पर हमले का उल्लेख किया, साथ ही दुनिया को सीरिया, यमन और म्यांमार के युद्ध पीड़ितों को याद करने का आह्वान किया।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, बुधवार 24 अगस्त 2022 (वाटिकन न्यूज) : सभी "पागल", क्योंकि कोई भी युद्ध के पागलपन से मुक्त नहीं है और हमेशा निर्दोष ही युद्ध की कीमत चुकाते हैं। यूक्रेनी धरती पर पहले रूसी बम के विस्फोट के ठीक छह महीने बाद, बुधवारीय आम दर्शन समारोह के अंत में संत पापा फ्राँसिस ने यूक्रेनी लोगों के लिए ईश्वर से शांति के लिए प्रार्थना करने के निमंत्रण को नवीनीकृत किया, जो आज छह महीने से युद्ध के आतंक का सामना कर रहे हैं। संत पापा फ्राँसिस ने अपनी अपील को सूक्ष्म लेकिन गंभीर स्वर के साथ विराम दिया: “मुझे आशा है कि युद्ध को समाप्त करने और ज़ापोरिज्जिया में परमाणु आपदा के जोखिम को टालने के लिए ठोस कदम उठाए जाएंगे।”

जापोरिज्जिया में कैदियों को मुक्त करें

संदर्भ दक्षिण-पूर्वी यूक्रेन के शहर का है, जो यूरोप के सबसे बड़े परमाणु ऊर्जा संयंत्रों में से एक है, जहां सैकड़ों लोगों को महीनों से बंद कर दिया गया है। संत पापा उनके बारे में बोलते हैं, “मैं अपने दिल में उन कैदियों को रखता हूँ, खासकर जो नाजुक परिस्थितियों में हैं और मैं जिम्मेदार अधिकारियों से उनकी रिहाई के लिए काम करने की अपील करता हूँ।”

निर्दोष बच्चे युद्ध  का भुगतान करते हैं

संत पापा ने तब यूक्रेन के बच्चों को याद करते हुए कहा, "कितने बच्चे मर गये, और इतने सारे शरणार्थी बच्चे जो इस हॉल में मौजूद हैं जिन्हें कारितास द्वारा स्वागत किया गया। कई घायल, कई यूक्रेनी बच्चे और रूसी बच्चे अनाथ हो गए हैं। अनाथालय की कोई राष्ट्रीयता नहीं है, उन्होंने अपने पिता या माता को खो दिया है। उन्हें रूसी होने दें, उन्हें यूक्रेनी होने दें। मैं इतने सारे निर्दोष लोगों के साथ इतनी क्रूरता के बारे में सोचता हूँ जो हर तरफ पागलपन के लिए भुगतान कर रहे हैं, क्योंकि युद्ध पागलपन है और जो कोई भी युद्ध में है वह नहीं कह सकता, मैं पागल नहीं हूँ। युद्ध का पागलपन...”

दरिया दुगिना पर हमला

संत पापा फ्राँसिस ने रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के सहयोगी अलेक्जेंडर डुगिन की बेटी दरिया दुगिना पर हमले का उल्लेख किया, जिनकी 20 अगस्त को मास्को लौटते समय उनकी कार विस्फोट में मृत्यु हो गई थी। संत पापा फ्राँसिस ने युवा पीड़िता को इस प्रकार याद किया: “मैं उस बेचारी लड़की के बारे में सोचता हूँ जो मॉस्को में अपने कार की सीट के नीचे रखे बम ब्लास्ट से हवा में उड़ गई थी। युद्ध के लिए निर्दोष का भुगतान हुआ।”

हथियार का व्यापार करने वाला अपराधी है

संत पापा ने कहा, "आइए, इस वास्तविकता के बारे में सोचें और एक दूसरे को बताएं, कि युद्ध पागलपन है।" और संत पापा उन सभी लोगों की निंदा करने से नहीं रुकते जो आतंक से लाभ उठाते हैं: "जो लोग हथियारों के व्यापार से लाभ कमाते हैं वे भी अपराधी हैं जो मानवता को मारते हैं।"

दुनिया में अन्य युद्ध

अंत में, संत पापा ने न केवल यूक्रेन में, बल्कि दुनिया के अन्य हिस्सों में भी हो रही त्रासदियों पर दुनिया का ध्यान आकर्षित कराया। "टुकड़ों में हो रहा तीसरा विश्व युद्ध,"  वे "टुकड़े" जो धीरे-धीरे एक विश्व रसातल को चित्रित करने के लिए जुड़ रहे हैं।

संत पापा ने कहा, “हम उन अन्य देशों के बारे में नहीं सोचते जो कुछ समय से युद्ध में हैं। दस साल से अधिक समय से सीरिया में युद्ध है। आइए, हम यमन के बारे में सोचें, जहां इतने सारे बच्चे भूख से पीड़ित हैं। आइए, उन रोहिंग्या लोगों के बारे में सोचें जो अन्याय पूर्वक अपनी जमीन से बेदखल कर दिये गये हैं और दुनिया की यात्रा करते हैं।”

माता मरिया से प्रार्थना

आज, हालांकि, कीव में आक्रमण शुरू होने के छह महीने बाद, संत पापा ने यूक्रेन और रूस पर भी विशेष ध्यान देते हुए कहा, "मैंने दोनों देशों को माता मरिया के निष्कलंक हृदय को समर्पित किया है। माँ आप इन दोनों देशों पर अपनी नजर बनाये रखें, यूक्रेन को देखें, रूस को देखें। माँ हमें शांति प्रदान करें। हमें शांति चाहिए।"

Thank you for reading our article. You can keep up-to-date by subscribing to our daily newsletter. Just click here

24 August 2022, 16:04