खोज

2022.06.13 अफ्रीका के मिशनरियों के धर्मसंघ की आम सभा के प्रतिभागियों के साथ संत पापा फ्राँसिस 2022.06.13 अफ्रीका के मिशनरियों के धर्मसंघ की आम सभा के प्रतिभागियों के साथ संत पापा फ्राँसिस  (Vatican Media)

3 जुलाई को मैं कांगो समुदाय के साथ मिस्सा समारोह मनाउँगा, संत पापा

आम सभा के लिए एकत्रित श्वेत फादरों (अफ्रीका के मिशनरियों) से मुलाकात करते हुए, संत पापा ने प्रजातांत्रिक गणराज्य कांगो और दक्षिण सूडान की यात्रा को स्थगित करने के लिए खेद व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि येसु का प्रेरित "वह नहीं है जो धर्मांतरण करता है, वह प्रबंधक नहीं है, वह एक विद्वान व्याख्याता नहीं है, वह सूचना प्रौद्योगिकी का" जादूगर "नहीं है, प्रेरित एक गवाह है।"

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, सोमवार 13 जून 2022 (वाटिकन न्यूज) : संत पापा फ्राँसिस ने सोमवार को वाटिकन के क्लेमेंटीन सभागार में अफ्रीका के मिशनरियों के धर्मसंघ की आम सभा के प्रतिभागियों से मुलाकात की। संत पापा ने परिचय भाषण के लिए सुपीरियर जनरल को धन्यवाद दिया।

संत पापा ने कहा, “दुर्भाग्य से, बड़े अफसोस के साथ, मुझे कांगो और दक्षिण सूडान की यात्रा स्थगित करनी पड़ी। वास्तव में, मेरी उम्र में किसी मिशन पर जाना इतना आसान नहीं है! लेकिन आपकी प्रार्थनाओं और आपके उदाहरण ने मुझे साहस दिया है और मुझे विश्वास है कि मैं इन लोगों से मिलने में सक्षम होऊँगा, जिन्हें मैं अपने दिल में रखता हूं। अगले रविवार मैं कांगो के रोमन समुदाय के साथ सामूहिक उत्सव मनाने का प्रयास करूँगा। अगले 3 जुलाई को,जिस दिन मुझे किंशासा में पवित्र मिस्सा समारोह मनाना था। हम किंशासा को संत पेत्रुस महागिरजाघर में ले आयेंगे और वहां हम रोम में रहने वाले सभी कांगो के लोगों के साथ समारोह मनाएंगे, जिनकी संख्या बहुत हैं!”

संत पापा ने तीन वर्ष पहले मनाये गये धर्मसंघ के 150वीं वर्षगांठ को भी याद किया।

"धन्यवाद" कहने का तरीका जानना

संत पापा ने कहा कि उन्होंने आमसभा का विषय “भविष्यवक्ता के साक्ष्य के रूप में मिशन” चुना है। संत पापा ने कहा, “मुझे यह सुनकर बहुत अच्छा लगा कि आप इन दिनों "कृतज्ञता के साथ" और "आशा के साथ" जी रहे हैं। वह बहूत अच्छा है। कृतज्ञता के साथ पीछे मुड़कर देखना, अच्छे आध्यात्मिक स्वास्थ्य की निशानी है; यह "व्यवस्थाविवरण" मनोवृत्ति है जिसे ईश्वर ने अपने लोगों को सिखाया (सीएफ वि. विवरण ग्रंथ अध्याय 8)। उस यात्रा की साभार स्मृति को विकसित करें और यही कृतज्ञता आशा की लौ को खिलने में मदद करती है। एक समुदाय जो ईशवर और अपने भाइयों को "धन्यवाद" कहना जानता है और जिसमें एक दूसरे को पुनर्जीवित प्रभु में आशा करने के लिए मदद करता है, वह समुदाय बुलाए गए लोगों को आकर्षित और समर्थन करता है। “आप कृतज्ञता और आशा में आगे बढ़ें।”

प्रेरितों के अलावा कुछ नहीं

"भविष्यवक्ता के साक्ष्य के रूप में मिशन" विषय पर चिंतन हेतु एकत्र हुए पुरोहितों के लिए, संत पापा ने उनके संस्थापक, कार्डिनल चार्ल्स-मार्शल अल्लेमैंड लैविगेरी के उपदेश को याद किया: "प्रेरित बनें, प्रेरितों के अलावा कुछ भी नहीं": और येसु मसीह का प्रेरित धर्मांतरणकर्ता नहीं है, वह प्रबंधक नहीं है, वह विद्वान व्याख्याता नहीं है, वह सूचना प्रौद्योगिकी का "जादूगर" नहीं है, प्रेरित एक गवाह है। यह कलीसिया में हमेशा और हर जगह सच है, लेकिन यह उन लोगों के लिए विशेष रूप से सच है, जिन्हें आप की तरह, अक्सर प्रारंभिक प्रचार या प्रचलित इस्लामी धर्म के संदर्भ में मिशन को जीने के लिए बुलाया जाता है।

जाइये और वहाँ रहिये

प्रार्थना और बंधुत्व दो शब्द हैं जिनके माध्यम से साक्ष्य व्यक्त की जाती है। संत पापा ने एक विरोधाभास पर प्रकाश डाला कि कोई केवल रहकर ही किसी मिशन पर जा सकता है। मसीह में बने रहने का मतलब है प्रतिदिन उनकी उपस्थिति में आराधना में बने रहना। संत पापा ने कहा, “आइए, हम उनसे संयुक्त रहते हुए अपने भाइयों से मिलने के लिए बाहर जायें। आप "सुसमाचार प्रचार के मधुर आनंद को जीने के लिए भेजे गये हैं।" विशेष रूप से ऐसे संदर्भों में जिसमें अक्सर आप गरीबी के अलावा, असुरक्षा और अनिश्चितता का अनुभव करते हैं।"

संत पापा ने कहा कि वे उनके समुदाय के बारे में सोच रहे हैं जो कई देशों के लोगों से, विभिन्न संस्कृतियों के लोगों से बनी है। यह आसान नहीं है, यह एक चुनौती है जिसे केवल पवित्र आत्मा की सहायता पर भरोसा करके ही स्वीकार किया जा सकता है और फिर आपका यह छोटा सा समुदाय, जो प्रार्थना और बंधुत्व में रहता है, बदले में उस परिवेश के साथ, जिसमें वह रहता है, लोगों के साथ, स्थानीय संस्कृति के साथ संवाद करने के लिए बुलाया जाता है। इस महान उपहार के लिए मैं आपके साथ प्रभु का धन्यवाद करता हूं।

अंत में संत पापा ने  उन्हें अफ्रीका की माता मरियम के सुपुर्द करते हुए उन्हें अपना प्रेरितिक आशीर्वाद दिया।

Thank you for reading our article. You can keep up-to-date by subscribing to our daily newsletter. Just click here

13 June 2022, 15:45