खोज

माफिया: लेसे क्षेत्र में जातियों के खिलाफ कार्रवाई, 17 एहतियाती उपाय माफिया: लेसे क्षेत्र में जातियों के खिलाफ कार्रवाई, 17 एहतियाती उपाय  (ANSA)

'संगठित अपराध द्वारा प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष पीड़ितों को नुकसान’, संत पापा

संत पापा फ्राँसिस ने अर्जेंटीना का दौरा करने वाले माफिया विरोधी संघ को एक पत्र भेजा और समाज और व्यक्तियों की रक्षा के लिए संगठित अपराध गिरोहों के खिलाफ अंतर्राष्ट्रीय सहयोग का आह्वान किया।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, शनिवार 09 अप्रैल 2022 (वाटिकन न्यूज) : "संगठित अपराध बड़े पैमाने पर सामाजिक क्षति पहुंचाता है: यह प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रुप से पीड़ितों को उत्पन्न करता है, जो उस पीड़ा को सहन करते हैं जिसे सुना जाना चाहिए और मुआवजा दिया जाना चाहिए; इसके लिए समग्र रूप से समाज को उन ढांचों के खिलाफ लड़ने की आवश्यकता होती है जो अक्सर अचेतन मन में निहित होते हैं और जो इसके प्रसार की ओर ले जाते हैं।"

संत पापा फ्राँसिस ने "लीबेरा एसोसिएशन" के एक प्रतिनिधिमंडल को भेजे गए एक पत्र में संगठित अपराध की निंदा की पेशकश की, जो “बिएन रेस्टिटुइदो” (माल लौटायें) परियोजना को बढ़ावा देने के लिए इस सप्ताह अर्जेंटीना का दौरा किया था।

संत पापा का संदेश 25 मार्च को भेजा गया था और एसोसिएशन के संस्थापक-फादर लुइगी सियोटी द्वारा बुधवार को ब्यूनस आयर्स विश्वविद्यालय के विधि संकाय में पढ़ा गया था।

प्रतिनिधिमंडल अर्जेंटीना में यूरोपीय संघ के सहयोग से आयोजित एक कांग्रेस के हिस्से के रूप में था। कांग्रेस का विषय थाः "संगठित अपराध से जब्त माल का सामाजिक पुन: उपयोग: समाज और राज्य के लिए एक अवसर"

सीमाहीन अराजकता

संत पापा फ्राँसिस ने माफिया समूहों से लड़ने के लिए इटली, यूरोपीय संघ और अर्जेंटीना के बीच सहयोग और सम्मेलन करने के लिए अपनी प्रशंसा व्यक्त की। उन्होंने कहा, "इस प्रकार के अवैध संघ को दूर करने के लिए पारस्परिक सहयोग आवश्यक है, जो कोई सीमा नहीं जानता और लोगों के बीच संघर्ष और संस्थानों की शिथिलता का लाभ उठाता है।"

उन्होंने आगे कहा, "सामान्य भलाई के लिए काम करने हेतु समन्वय और सहयोग की सामान्य प्रथाओं की आवश्यकता होती है जो इसकी जटिल वास्तविकता को संबोधित करने में सक्षम हैं।"

आपराधिक न्याय के लिए दोतरफा दृष्टिकोण

संत पापा ने यह भी नोट किया कि आपराधिक न्याय प्रणाली आमतौर पर संगठित अपराध से संबंधित समस्या का केवल आधा समाधान करती है।

"इस प्रकार की आपराधिकता के खिलाफ न्यायिक और प्रक्रियात्मक कार्रवाई आमतौर पर दमन और सजा के स्तर पर केंद्रित होती है, लेकिन यह एक सीमित परिप्रेक्ष्य है जो हमेशा आधे रास्ते में रुक जाता है। क्षतिपूर्ति के प्रावधान के बिना और यहां तक कि एक क्षतिपूर्ति जिसमें कारण शामिल हैं, के बिना एक आपराधिक कार्यवाही के निष्कर्ष के बारे में सोचना मुश्किल है।"

संत पापा फ्राँसिस ने कहा कि इटली ने अपने संगठित अपराध के इतिहास के कारण बहुत पीड़ा का अनुभव किया है, लेकिन समाज को लाभ पहुंचाने के लिए जब्त की गई माफिया संपत्तियों से कैसे निपटा जाए, इस पर उदाहरण के रूप में बहुत कुछ पेश कर सकता है।

उन्होंने कहा, "समाज के लाभ के लिए माफिया से जब्त संपत्ति का पुन: उपयोग सामूहिक कार्रवाई के माध्यम से बहाली और शांति स्थापित करने का एक अच्छा उदाहरण है।"

न्याय और क्षतिपूर्ति में राज्य की उचित भूमिका

संत पापा ने आगे कहा कि राज्य के पास रोजगार के अधिक अवसर पैदा करके अपने नागरिकों की बेहतर देखभाल करने का मौका है, क्योंकि "संगठित अपराध आमतौर पर ऐसे स्थान को घेरते हैं जहां संस्थान अनुपस्थित या निष्क्रिय होते हैं।"

उन्होंने कहा, राज्य को "अपनी जिम्मेदारियों को निभाना चाहिए और अपनी विफलताओं को पहचानना चाहिए, क्योंकि एक राज्य जो केवल खुद को देखता है वह भ्रमित और खो जाता है।"

संत पापा फ्राँसिस ने लीबेरा संघों को एक साथ काम करने के लिए "समाज के लिए संगठित अपराध के नुकसान की मरम्मत में मदद करने और व्यावहारिक समाधान तलाशने" का प्रोत्साहन देते हुए अपने पत्र को समाप्त किया।

 

Thank you for reading our article. You can keep up-to-date by subscribing to our daily newsletter. Just click here

09 April 2022, 14:57