खोज

सन्त पापा फ्राँसिस के साथ प्राधिधर्माध्यक्ष बारथोलोम प्रथम, तस्वीरः 04.10.2021  सन्त पापा फ्राँसिस के साथ प्राधिधर्माध्यक्ष बारथोलोम प्रथम, तस्वीरः 04.10.2021   (AFP or licensors)

प्राधिधर्माध्यक्ष बारथोलोम प्रथम को सन्त पापा की शुभकामनाएं

सन्त पापा फ्राँसिस ने कॉन्सटेनटीनोपेल के प्राधिधर्माध्यक्ष बारथोलोम प्रथम को, सन्त अन्द्रेयस की पवित्रपीठ पर उनकी नियुक्ति की तीसवीं वर्षगाँठ के उपलक्ष्य में शुभकामनाएँ प्रेषित करते हुए एक विडियो सन्देश प्रकाशित किया है।

जूलयट जेनेवीव क्रिस्टफर-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, शुक्रवार, 11 फरवरी 2022 (रेई, वाटिकन रेडियो): सन्त पापा फ्राँसिस ने कॉन्सटेनटीनोपेल के प्राधिधर्माध्यक्ष बारथोलोम प्रथम को, सन्त अन्द्रेयस की पवित्रपीठ पर उनकी नियुक्ति की तीसवीं वर्षगाँठ के उपलक्ष्य में शुभकामनाएँ प्रेषित करते हुए एक विडियो सन्देश प्रकाशित किया है।

"अच्छे व्यक्तिगत संबंध"  

सन्त पापा ने कहा, "मैं प्राधिधर्माध्यक्ष बारथोलोम प्रथम को उनकी 30 वीं वर्षगांठ के लिए अपनी हार्दिक शुभकामनाएं व्यक्त करता हूँ तथा ईश्वर से प्रार्थना करता हूँ कि वे उन्हें अच्छा स्वास्थ्य, शांति और आध्यात्मिक आनंद प्रदान करें।  साथ ही शुभकामना करता हूँ कि उनकी विनोदप्रियता में अधिकाधिक वृद्धि हो!"

अपने विडियो सन्देश में सन्त पापा फ्राँसिस ने, नौ साल पहले पेत्रुस के उत्तराधिकारी के रूप में अपनी नियुक्ति के उद्घाटन के उपलक्ष्य में प्राधिधर्माध्यक्ष बारथोलोम द्वारा रोम की भेंट का स्मरण किया और कहा कि तब से ही दोनों आध्यात्मिक गुरुओं के बीच "अच्छे व्यक्तिगत संबंध" रहे हैं। उस समय से ही, सन्त पापा ने कहा, उनका रिश्ता "न केवल रोम, बल्कि कॉन्स्टेंटिनोपल, जैरूसालेम, असीसी, काहिरा, लेस्बोस और बारी में सम्पन्न मुलाकातों और कई बैठकों में भ्रातृत्व एवं मैत्री की भावना में विकसित हुआ है।

साझा जागरूकता

संत पापा फ्राँसिस ने, विशेष रूप से, सृष्टि की देखभाल के लिए प्राधिधर्माध्यक्ष बारथोलोम की प्रतिबद्धता, और महामारी के दौरान उनके साक्ष्य और शिक्षण की प्रकाशना करते हुए कहा "मानवजाति के समक्ष प्रस्तुत अत्यावश्यक चुनौतियों के प्रति दोनों कलीसियायों की संयुक्त प्रेरितिक ज़िम्मेदारी के बारे में साझा जागरूकता" को रेखांकित किया जाना उचित ही है। सन्त पापा ने कहा कि प्राधिधर्माध्यक्ष बारथोलोम प्रथम ने येसु ख्रीस्त के समस्त अनुयायियों के बीच मेल-मिलाप एवं पूर्ण सहभागिता की बहाली के लिये सम्वाद, उदारता एवं सत्य प्रति समर्पण का मार्ग दर्शाया है जिसपर हम सबको मिलकर आगे बढ़ना है।

ग्रीक एवं लैटिन भाषाओं में अपने सन्देश की समाप्ति करते हुए सन्त पापा फ्राँसिस ने मंगलयाचना की कि प्रभु ईश्वर प्राधिधर्माध्यक्ष बारथोलोम प्रथम को उनकी प्रेरिताई के लिये जीवन एवं अनेक फलप्रद वर्षों का वरदान प्रदान करें।    

Thank you for reading our article. You can keep up-to-date by subscribing to our daily newsletter. Just click here

11 February 2022, 11:52