खोज

मिस्र में आलेक्ज़ानड्रिया के पोप तावाद्रोस द्वितीय और राष्ट्रपति अब्देल फतह अल सीसी, तस्वीरः 07.01.2022 मिस्र में आलेक्ज़ानड्रिया के पोप तावाद्रोस द्वितीय और राष्ट्रपति अब्देल फतह अल सीसी, तस्वीरः 07.01.2022   (AFP or licensors)

पूर्वी कलीसियाओं को सन्त पापा ने भेजी क्रिसमस की शुभकामनाएँ

सन्त पापा फ्रांसिस ने, 07 जनवरी को प्रभु येसु ख्रीस्त की जयन्ती मनानेवाली पूर्वी रीति की कलीसियाओं के प्रति "शांति और हर खुशी" की शुभकामनाएँ अर्पित की हैं।

जूलयट जेनेवीव क्रिस्टफर-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, शुक्रवार, 7 जनवरी 2022 (रेई,वाटिकन रेडियो): सन्त पापा फ्रांसिस ने, 07 जनवरी को प्रभु येसु ख्रीस्त की जयन्ती मनानेवाली पूर्वी रीति की कलीसियाओं के प्रति "शांति और हर खुशी" की शुभकामनाएँ अर्पित की हैं। विश्वव्यापी काथलिक कलीसिया से लगभग एक हज़ार साल पहले अलग हुई पूर्वी रीति की कलीसियाएँ, जूलयन पांचाँग का अनुकरण करते हुए, 07 जनवरी को क्रिसमस महापर्व मनाती हैं।

क्रिसमस की हार्दिक बधाई

गुरुवार को देवदूत प्रार्थना के बाद तीर्थयात्रियों का अभिवादन कर सन्त पापा ने ऑरथोडोक्स ख्रीस्तीयों तथा पूर्वी रीति की कलीसियाओं का स्मरण किया तथा उनके प्रति क्रिसमस महापर्व की हार्दिक शुभकामनाएँ अर्पित कीं।  सन्त पापा फ्राँसिस ने कहा,  "मैं आपके प्रति शांति और हर भलाई की अपनी हार्दिक शुभकामनाएं प्रेषित करता हूँ।  कुँवारी मरियम से जन्मे येसु ख्रीस्त आपके परिवारों और आपके समुदायों पर प्रकाशमान हों! भाइयों और बहनों, आप सबको हार्दिक शुभकामनाएँ!”

बाल्यकाल दिवस

इसी अवसर पर सन्त पापा ने कहा कि 06 जनवरी बाल्यकाल दिवस रूप में भी मनाया जाता है और यह हमें स्मरण दिलाता है कि युवा ख्रीस्तीय भी बपतिस्मा प्राप्त करने कारण मिशन कार्यों में योगदान के लिये आमंत्रित हैं।  उन्होंने कहा कि विश्व के विभिन्न क्षेत्रों में कई ऐसे बच्चे और युवा हैं जो अपनी प्रार्थनाओं एवं अपने भले आचरणों द्वारा सुसमाचार की उदघोषणा करते हैं।  

Thank you for reading our article. You can keep up-to-date by subscribing to our daily newsletter. Just click here

07 January 2022, 11:37