खोज

इटली के चमड़ा रसायनज्ञ (चमड़ा उद्योग) संघ के सदस्यों से मुलाकात करते संत पापा फ्राँसिस इटली के चमड़ा रसायनज्ञ (चमड़ा उद्योग) संघ के सदस्यों से मुलाकात करते संत पापा फ्राँसिस  (Vatican Media)

महामारी, श्रमिकों के प्रति एकात्मता में बढ़ने का अवसर

संत पापा फ्राँसिस ने इटली के चमड़ा रसायनज्ञ (चमड़ा उद्योग) संघ के सदस्यों से मुलाकात की तथा उनसे अपील की कि वे चमड़ा उत्पादन के अपने पेशे की विरासत को सुरक्षित रखते हुए पर्यावरण पर इसके प्रभाव को कम करें।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, शनिवार, 29 जनवरी 2022 (रेई)- संत पापा फ्राँसिस ने शनिवार, 29 जनवरी को वाटिकन के क्लेमेंटीन सभागार में इटली के चमड़ा उद्योग संघ के 100 सदस्यों से मुलाकात की। 

संत पापा ने उनके कार्यों की सराहना करते हुए कहा, "मैं कई कारणों से आपसे मुलाकात कर खुश हूँ। सबसे पहले कि आप खास तरह के श्रमिक हैं जो वैश्विक समाज के महान बहुतल को मूल और विशिष्ट योगदान प्रदान करते हैं। आपका पेशा, वैज्ञानिक और तकनीकी ज्ञान को एक कारीगर के कार्य के रूप में व्यक्त करता है जिसकी इटली और अन्य देशों में एक प्राचीन परंपरा है, जिसमें मेरा, अर्जेंटीना भी शामिल है।" 

संत पापा ने याद किया कि एक युवक के रूप में उन्होंने रसायन अभिविन्यास वाले एक तकनीकी संस्थान में पढ़ाई की थी। अतः खुद को उनके करीब बतलाया। 

चमड़ा उद्योग संघ के सदस्यों से मुलाकात करते समय एक बच्ची के साथ पोप फ्रांँसिस
चमड़ा उद्योग संघ के सदस्यों से मुलाकात करते समय एक बच्ची के साथ पोप फ्रांँसिस

तकनीकी प्रगति

संत पापा ने इस संकटपूर्ण परिस्थिति में उनके प्रति अपना सामीप्य व्यक्त करते हुए कहा, "इस आर्थिक एवं सामाजिक संकट के अत्यन्त जटिल समय में, मैं श्रम जगत  को अपना तथा कलीसिया का सामीप्य व्यक्त करता हूँ। कई स्त्री और पुरूष श्रमिक, कठिन परिस्थिति में जीते हैं जिनकी स्थिति महामारी के कारण बदतर हो गई है किन्तु यह महामारी न्याय या सुरक्षा में चूक को सही ठहराने के लिए बहाना न बने। इसके विपरीत, संकट, एकात्मता एवं काम की गुणवत्ता में बढ़ने का अवसर बने।" 

संत पापा ने उनके लिए संत जोसेफ की मध्यस्थता द्वारा प्रार्थना की कि उनका उदाहरण एवं उनकी मध्यस्थता उन्हें निराश नहीं होने, रचनात्मक रूप से अपनी क्षमता को बनाये रखने तथा आगे बढ़ने एवं नया रास्ता खोलने के अनुभव में बढ़ने में मदद दे। 

अंतर-पीढ़ी आदान-प्रदान

उन्होंने कहा कि इसके लिए बुजूर्गों की प्रज्ञा एवं युवाओं के जोश को एक साथ लाना बहुत आवश्यक है, न केवल तकनीकी क्षेत्र में बल्कि मानवीय स्तर पर भी।  

संत पापा ने उनके कार्यों द्वारा पर्यावरण पर प्रभाव की ओर भी ध्यान खींचा। उन्होंने कहा कि चमड़े से बैग, जूते और कई अन्य दैनिक प्रयोग के समान रसायन के प्रयोग से तैयार किये जाते हैं, किन्तु काम के पीछे उसके प्रभाव पर विचार नहीं किया जाता है। संत पापा ने सदस्यों से कहा कि वे भी आमघर की देखभाल के लिए विशेष योगदान देन हेतु बुलाये गये हैं जिसको वे अपने कार्यों को सही तरीके से सम्पन्न कर दे सकते हैं। यही कारण है कि संगठन बहुमूल्य है क्योंकि इसके द्वारा ज्ञान, अनुभव, साथ ही साथ वैध एवं तकनीकी अद्यतन उपलब्ध किये जा सकते हैं और इस तरह वे सामाजिक एवं पर्यावर्णीय जिम्मेदारी में एक-दूसरे की मदद कर सकते हैं। संत पापा ने कहा कि यह बहुत महत्वपूर्ण है। अंत में, उन्होंने सदस्यों को उनके कार्यों के लिए शुभकामनाएँ दीं।  

 

Thank you for reading our article. You can keep up-to-date by subscribing to our daily newsletter. Just click here

29 January 2022, 14:32