खोज

Vatican News
मलवा साफ करते हुए इन्डोनेशिया के लोग मलवा साफ करते हुए इन्डोनेशिया के लोग 

संत पापा ने इंडोनेशियाई ज्वालामुखी पीड़ितों के लिए प्रार्थना की

संत पापा फ्राँसिस ने इंडोनेशिया में सेमेरू ज्वालामुखी के फटने से हुई मौत और विनाश पर दुख व्यक्त किया और पीड़ितों के लिए प्रार्थना की।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, बुधवार 8 दिसम्बर 2021 (वाटिकन न्यूज) : संत पापा फ्राँसिस ने कहा कि वे इंडोनेशिया में माउंट सेमेरू के विस्फोट के बाद "मृतकों, घायलों और विस्थापितों के साथ-साथ, नागर अधिकारियों और खोज प्रयासों में लगे आपातकालीन कर्मियों" के लिए प्रार्थना कर रहे हैं।

वाटिकन राज्य सचिव कार्डिनल पिएत्रो पारोलिन द्वारा हस्ताक्षरित एक तार में, संत पापा ने कहा कि वे विस्फोट के कारण हाल ही में हुए जान माल की क्षति के बारे में जानकर दुखी हैं। संत पापा ने इंडोनेशिया के प्रेरितिक राजदूत महाधर्माध्यक्ष पिएरो पियोप्पो को संबोधित अपने संदेश में आपदा से प्रभावित सभी लोगों को ईश्वर की दिव्य "शक्ति और शांति" एवं अपनी प्रार्थनाओं का आश्वासन दिया।

मंगलवार को, इंडोनेशिया के राष्ट्रपति जोको विडोडो ने जावा के ज्वालामुखी विस्फोट के स्थल का दौरा करने के बाद निकासी के प्रयासों को तेज करने और क्षतिग्रस्त घरों की मरम्मत करने का वादा किया, जिसमें कम से कम 34 लोग मारे गए थे। शनिवार को 3,676 मीटर लंबा सेमेरु ज्वालामुखी फटा, जिससे आसमान में राख का बादल छा गया और नीचे के गांवों में खतरनाक पायरोक्लास्टिक प्रवाहित हो गया।

आपदा न्यूनीकरण एजेंसी के अनुसार, हजारों लोग विस्थापित हुए हैं और 22 लापता हैं। खोज और बचाव का प्रयास मंगलवार को भी जारी रहे, लेकिन तेज हवा, बारिश और कुछ क्षेत्रों में सीमित उपकरणों के कारण  बचाव कार्य बाधित हुआ है।

माउंट सेमेरू मंगलवार को तीन बार फटा। इंडोनेशिया के सेंटर फॉर वोल्कैनोलॉजी एंड जियोलॉजिकल हैज़र्ड मिटिगेशन ने कहा कि गर्म गैस, राख और चट्टानों के और प्रवाह की संभावना है।

माउंट सेमेरु इंडोनेशिया में 100 से अधिक सक्रिय ज्वालामुखियों में से एक है, जो "पैसिफिक रिंग ऑफ फायर" के रूप में जानी जाने वाली कई टेक्टोनिक प्लेटों के ऊपर उच्च भूकंपीय गतिविधि के क्षेत्र में है।

 

08 December 2021, 16:16