खोज

Vatican News
संत पापा फ्राँसिस और कार्डिनल सिल्वानो मरिया तोमासी संत पापा फ्राँसिस और कार्डिनल सिल्वानो मरिया तोमासी 

पोप द्वारा ऑर्डर ऑफ माल्टा को नवीनीकरण प्रक्रिया में प्रोत्साहन

कार्डिनल सिल्वानो मरिया तोमासी को माल्टा के सुप्रीम आदेश के लिए अपने विशेष प्रतिनिधि के रूप में नियुक्त करने के एक वर्ष बाद, संत पापा फ्रांसिस ने उन्हें नई शक्तियां प्रदान की हैं और कार्डिनल सिल्वानो में अपने पूर्ण विश्वास की पुष्टि की है कि ऑर्डर ऑफ माल्टा के आध्यात्मिक और नैतिक नवीनीकरण को सुनिश्चित किया जाना है।"

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, बुधवार 27 अक्टूबर 2021 (वाटिकन न्यूज) : 25 अक्टूबर 2021 को प्रेषित एक पत्र में, संत पापा फ्राँसिस ने कार्डिनल तोमासी को उस सकारात्मक कार्य के लिए धन्यवाद दिया जो उन्होंने ऑर्डर ऑफ माल्टा के लिए अपने विशेष प्रतिनिधि के रूप में नियुक्ति को स्वीकार करने के बाद से किया है और संवैधानिक चार्टर और संहिता को अद्यतन करने के लिए चल रही प्रक्रिया पर ध्यान दिया। ऑर्डर ऑफ माल्टा पर अपना विश्वास व्यक्त करते हुए लिखा, "यह महत्वपूर्ण है कि असाधारण महासभा उन परिस्थितियों में आयोजित किया जाए जो संघ के जीवन में आवश्यक नवीनीकरण सुनिश्चित करेंगे।"

इसके आलोक में वे कहते हैं कि, उन्होंने सॉवरेन ऑर्डर ऑफ माल्टा के ग्रैंड मास्टर लेफ्टिनेंट फ्रा 'मार्को लुज़ागो को महासभा के समापन तक और राज्य परिषद द्वारा एक नए ग्रैंड मास्टर के चुनाव तक अपने कार्यालय में रहने की अवधि को बढ़ाया है।

संत पापा आगे निर्दिष्ट करते हैं कि अपने विशेष प्रतिनिधि के रूप में, कार्डिनल तोमासी के पास "आदेश के कार्यान्वयन में उत्पन्न होने वाले किसी भी प्रश्न को सुलझाने की आवश्यक सभी शक्तियां" हैं।

कार्डिनल तोमासी को संत पापा लिखते हैं, "आगामी असाधारण महासभा को देखते हुए, किसी भी समस्या का सामना करने के लिए, मैं आपको स्पष्ट रूप से निम्नलिखित शक्तियां प्रदान करता हूँ।

- आप जिस तिथि को निर्धारित करेंगे उसके लिए असाधारण महासभा का आयोजन करना और उसकी सह-अध्यक्षता करना;

- असाधारण महासभा की रचना और महासभा के लिए तदर्थ विनियमों को परिभाषित करना;

- संवैधानिक चार्टर और मेलिटेंस कोड को मंजूरी देना;

- नए मानक ग्रंथों के अनुरूप संप्रभु परिषद के नवीनीकरण के लिए आगे बढ़ना;

- नए ग्रैंड मास्टर के चुनाव के लिए काउंसिल ऑफ स्टेट का आयोजन करना।

संत पापा फ्राँसिस ने माल्टा के संप्रभु आदेश के लिए प्रोत्साहन और समर्थन व्यक्त करते हुए और दुनिया के विभिन्न हिस्सों में सदस्यों और उदारता के कई कार्यों में स्वयंसेवकों के सहयोग के लिए धन्यवाद व्यक्त किया।

 

27 October 2021, 14:32