खोज

Vatican News
दुखों की माता मरियम के सामने  संत पापा फ्राँसिस दुखों की माता मरियम के सामने संत पापा फ्राँसिस 

दुःखों की माता मरियम पर चिंतन, संत पापा का ट्वीट

आज 15 सितम्बर को काथलिक कलीसिया दुखों की माता मरियम का त्योहार मनाती है। आज स्लोवाकिया वासी देश की संरक्षिका ‘दुखों की माता मरियम’ का यह त्योहार बड़े धूमधाम से मनाते हैं। संत पापा ने सभी विशवासियों को दुःखों की माता मरियम पर चिंतन करने और उनके समान विश्वास के साथ अपने दुखों को सहने हेतु प्रेरित किया। संत पापा अपनी प्रेरितिक यात्रा के समापन पर सभी को धन्याद दिया।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

साशटिन, बुधवार 15 सितम्बर 2021 (वाटिकन न्यूज) : संत पापा फ्राँसिस ने अपनी प्रेरितिक यात्रा के अंतिम दिन सुबह साशटिन के राष्ट्रीय तीर्थालय जाकर ‘दुखों की माता मरियम’ का दर्शन किया और विश्वासियों के साथ मिलकर खुले मैदान में ‘दुखों की माता मरियम’ का समारोही ख्रीस्तयाग का अनुष्ठान किया। इसी के मद्देनजर संत पापा फ्राँसिस ने दो ट्वीट किया।

1ला ट्वीट

संत पापा ने संदेश में लिखा, “दुखों की हमारी माता मरियम, क्रूस के नीचे, अपने दुःखों से दूर नहीं भागी। उनकी आँखों से आँसु बह रहे थे। परंतु उनहें विश्वास था और वे जानती थीं कि ईश्वर अपने पुत्र के दुःख को बदल देंगे। वे मृत्यु पर विजय प्राप्त करेंगे।” #प्रेरितिक यात्रा

2रा ट्वीट

संत पापा ने संदेश में लिखा, “दुःखों की माता मरियम पर चिंतन करते हुए, हम अपने आप को एक ऐसे विश्वास के लिए खोल सकते हैं जो करुणा बन जाता है, एक ऐसा विश्वास जो जरूरतमंदों की पहचान कराता है। एक ऐसा विश्वास जो ईश्वर के मनोभाव का अनुकरण करती है, चुपचाप हमारी दुनिया की पीड़ा को दूर करती है और इतिहास की धरती को मुक्ति से सींचती है।”

संत पापा फ्राँसिस ने अपनी 34वीं प्रेरितिक यात्रा का समापन करते हुए उन सभी लोगों के प्रति अपना आभार व्यक्त किया जिन्होंने यात्रा की सफलता के लिए सहयोग दिया था।

3रा टवीट

संदेश में संत पापा ने लिखा, “मैंने अपनी प्रेरितिक यात्रा की सफलता के लिए ईश्वर को धन्यवाद देता हूँ। मैं उन सभी का आभारी हूँ, जिन्होंने अलग-अलग तरीकों से, सबसे बढ़कर, अपनी प्रार्थनाओं से सहयोग दिया है। आप सब मेरे दिल में हैं।”

15 September 2021, 15:42