खोज

Vatican News
ब्रातिस्लावा स्थित स्लोवाकिया के राष्ट्रपति भवन के समक्ष एकत्र जनसमुदाय को सम्बोधन -13.09.2021 ब्रातिस्लावा स्थित स्लोवाकिया के राष्ट्रपति भवन के समक्ष एकत्र जनसमुदाय को सम्बोधन -13.09.2021  (AFP or licensors)

स्लोवाकिया की राजधानी ब्रातिस्लावा में सन्त पापा फ्राँसिस

काथलिक कलीसिया के परमाध्यक्ष सन्त पापा फ्राँसिस ने रविवार सन्ध्या ब्रातिस्लावा स्थित परमधर्मपीठीय प्रेरितिक राजदूतावास में, अपने निर्धारित कार्यक्रम से हटकर, सम्पूर्ण स्लोवाकिया में सेवारत अपने सह-धर्मसमाजी जेसुइट भाइयों से मुलाकात की।

जूलयट जेनेवीव क्रिस्टफर-वटिकन सिटी

ब्रातिस्लावा, सोमवार, 13 सितम्बर 2021 (वाटिकन न्यूज़, विविध): काथलिक कलीसिया के परमाध्यक्ष सन्त पापा फ्राँसिस ने रविवार सन्ध्या ब्रातिस्लावा स्थित परमधर्मपीठीय प्रेरितिक राजदूतावास में, अपने निर्धारित कार्यक्रम से हटकर, सम्पूर्ण स्लोवाकिया में सेवारत अपने सह-धर्मसमाजी जेसुइट भाइयों से मुलाकात की।

येसु धर्मसमाजियों से मुलाकात

जेसुइट भाइयों के साथ उनकी मुलाकात लगभग डेढ़ घण्टे तक चली, जिसके दौरान मुक्त वार्ताएँ, विचारों का आदान-प्रदान तथा प्रश्नोत्तर सम्भव हुआ। सन्त पापा ने येसुधर्मसमाजियों को अपने मिशन में दृढ़तापूर्वक आगे बढ़ते रहने का सन्देश दिया। उन्होंने कहा कि महामारी, धर्म के प्रति उदासीनता तथा बुलाहटों में नित्य बढ़ती कमी के मद्देनज़र येसु धर्मसमाजियों का मिशन और अधिक अर्थगर्भित बन गया है, जिसका निर्वाह समर्पण की भावना में किया जाना अनिवार्य है।  

सोमवार को सन्त पापा ने ब्रातिस्लावा में देश के वरिष्ठ प्रशासनाधिकारियों, नागर समाज तथा राजनयिक निगम के प्रतिनिधियों से मुलाकात के अतिरिक्त शहर के सन्त मार्टिन को समर्पित काथलिक महागिरजाघर में धर्माध्यक्षों, पुरोहितों, धर्मसमाजियों, धर्मसंघियों, गुरुकुल छात्रों एवं धर्मशिक्षकों को अपना सन्देश दिया। सोमवार सन्ध्या सन्त पापा यहूदी समुदाय के प्रतिनिधियों से मुलाकात कर रहे हैं तथा प्रेरितिक यात्रा के तीसरे दिन वे स्लोवाकिया के प्रेसोव शहर में बिज़ेनटाईन रीति की दैवीय धर्मविधि में शरीक होने के उपरान्त दुखों की माँ को समर्पित राष्ट्रीय मरियम तीर्थ पर श्रद्धार्पण करेंगे। प्रेरितिक यात्रा के चौथे यानि अन्तिम दिन सन्त पापा फ्राँसिस बेघर एवं खानाबदोश जाति के लोगों से मुलाकात करने के बाद स्लोवाकिया के युवाओं को अपना सन्देश देंगे।

आतिथ्य का आह्वान

सन्त पापा फ्राँसिस रविवार 12 सितम्बर को हंगरी तथा स्लोवाकिया की यात्रा के लिये रोम से रवाना हुए थे। हंगरी की राजधानी बुडापेस्ट में 52 वें अन्तरराष्ट्रीय यूखारिस्तीय सम्मेलन का विधिवत समापन करते हुए सन्त पापा ने हंगरी तथा उसके राष्ट्राधिकारियों का आह्वान किया कि वे अपने हाथ सबकी ओर उदार रखें, क्योंकि ऐसा कर ही वे अपनी ख्रीस्तीय विरासत को अक्षुण रख पायेंगे। हंगरी के प्रधान मंत्री विक्टर ओरबान की आप्रवास विरोधी नीतियों के प्रति आलोचनात्मक रुख अपनाते हुए सन्त पापा ने यूरोप के राष्ट्रों से आग्रह किया कि ज़रूरतमन्दों को आतिथ्य प्रदान कर वे यूरोप की जनसंख्या सम्बन्धी शीत ऋतु पर विजय प्राप्त करें।

सोमवार को स्थानीय समयानुसार प्रातः दस बजे सन्त पापा फ्राँसिस ने ब्रातिस्लावा में वरिष्ठ प्रशासनाधिकारियों, नागर समाज के प्रतिनिधियों तथा राजनयिकों से मुलाकात कर उन्हें सम्बोघधित किया। 

13 September 2021, 11:26