खोज

Vatican News
सृष्टि का मौसम  2021 धरती की सुरक्षा हेतु प्रार्थना का समय सृष्टि का मौसम 2021 धरती की सुरक्षा हेतु प्रार्थना का समय 

सन्त पापा ने किया सृष्टि के मौसम 2021 में भागीदारी का आह्वान

एक विडियो सन्देश में सन्त पापा फ्राँसिस ने विश्व के समस्त काथलिकों का आह्वान किया कि वे "लाओदातो सी" अभियान द्वारा आयोजित "सृष्टि का मौसम 2021" के समारोहों में शामिल होकर अपने सामान्य धाम की सुरक्षा में योगदान प्रदान करें।

जूलयट जेनेवीव क्रिस्टफर-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, गुरुवार, 2 सितम्बर 2021 (रेई,वाटिकन रेडियो): सन्त पापा फ्राँसिस ने समस्त काथलिक विश्वासियों से आग्रह किया है कि वे, पहली सितम्बर से 04 अक्टूबर तक जारी सृष्टि के मौसम 2021 द्वारा आयोजित पहलों में सक्रिय रूप से भाग लें।

"लाओदातो सी" अभियान ने सृष्टि के मौसम 2021 के लिये कई पहलें आरम्भ की हैं, जिनमें प्रार्थना  सभाएँ, संगोष्ठियाँ तथा जलवायु परिवर्तन के प्रभावों पर वाद-विवाद आदि शामिल हैं। साथ ही "लाओदातो सी" अभियान ने विश्व के समस्त ख्रीस्तानुयायियों का आह्वान किया है कि वे "स्वस्थ ग्रह, स्वस्थ लोग" याचिका पर हस्ताक्षर करें तथा इसे प्रोत्साहन दें। यह याचिका, नवम्बर माह में, स्कॉटलैण्ड के ग्लास्गो शहर में आयोजित संयुक्त राष्ट्र संघ के जलवायु परिवर्तन सम्मेलन कॉप-26 में भाग लेनेवाले विश्व के नेताओं के समक्ष प्रस्तुत की जायेगी।

सृष्टि का मौसम 2021

"लाओदातो सी" अभियान के वकतव्य में कहा गया कि "सृष्टि का मौसम 2021", ख्रीस्त के अनुयायियों के बीच सम्बन्ध का विशिष्ट समय है। यह ईश्वर एवं सम्पूर्ण सृष्टि के साथ सम्बन्ध स्थापित करने, मन परिवर्तन करने तथा सृष्टि की सुरक्षा के प्रति स्वतः को समर्पित करने का निर्णायक क्षण है। इस अवधि के दौरान एक संयुक्त एकतावर्द्धक परिवार के सदृश प्रभु ख्रीस्त के समस्त अनुयायी, अपने सामान्य धाम की सुरक्षा हेतु, प्रार्थना एवं कार्यों में एकजुट होते हैं।  इसमें सृष्टि की सुरक्षा तथा मानवजति के सामान्य धाम यानि धरती को पर्यावरण के ह्रास से बचाने के लिये प्रार्थना का आग्रह किया है।      

सन्त पापा फ्राँसिस का आमंत्रण

सितम्बर माह के लिये गुरुवार को जारी अपने विडियो सन्देश में सन्त पापा फ्राँसिस ने विश्व के समस्त काथलिकों का आह्वान किया कि वे "लाओदातो सी" अभियान द्वारा आयोजित "सृष्टि का मौसम 2021" के समारोहों में शामिल होकर अपने सामान्य धाम की सुरक्षा में योगदान प्रदान करें। उन्होंने कहा कि प्रत्येक व्यक्ति को अपने आप से यह प्रश्न करना चाहिये कि हम किस तरह जीवन यापन कर रहे हैं तथा एक सरल एवं सम्मानजनक जीवन शैली की ओर आगे बढ़ना चाहिये।   

सन्त पापा ने कहा कि धरती की पुकार एवं निर्धनों की पुकार और अधिक गम्भीर एवं चेतावनी भरी होती जा रही है, इसलिये यह ज़रूरी है कि काथलिक धर्मानुयायी "इस संकट को अवसर में बदलने के लिए निर्णायक और तत्काल कार्रवाई करें।"

02 September 2021, 11:15