खोज

Vatican News
हैती में भुकम्प के बाद खुले में प्रार्थना करते विश्वासी हैती में भुकम्प के बाद खुले में प्रार्थना करते विश्वासी  (EDGARD GARRIDO)

हैती, बंगलादेश एवं वियतनाम के पीड़ितों को संत पापा की मदद

संत पापा फ्राँसिस हैती, बंगलादेश और वियतनाम के पीड़ितों की मदद करेंगे।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, मंगलवार, 24 अगस्त 2021 (रेई)- हैती में 14 अगस्त को 7.2 की तीव्रता से आये भुकम्प से करीब 2207 लोगों की मौत हो गई है, 344 लोग लापता हैं तथा लगभग 12 हजार लोग घायल हैं इसके साथ ही सामानों की बहुत अधिक क्षति हुई है। कोविड-19 महामारी से बिगड़े हालात के बाद भुकम्प ने देश की स्थिति को बिलकुल खराब कर दिया है।

समग्र मानव विकास हेतु गठित परमधर्मपीठीय परिषद के माध्यम से पोप फ्रांसिस ने आपातकाल के इस दौर में शुरुआती योगदान के रूप में हैती के लिए 2 लाख यूरो प्रदान करेंगे।

हैती के प्रति संत पापा की सहृदयता

इस अनुदान राशि को प्रेरितिक राजदूत के सहयोग से सबसे अधिक प्रभावित धर्मप्रांत तक पहुंचाया जाएगा जहाँ से भुकम्प पीड़ितों की मदद की जायेगी। यह संत पापा फ्रांसिस की ओर से पीड़ित लोगों के प्रति आध्यात्मिक सामीप्य एवं पिता तुल्य प्रोत्साहन होगा जिसको उन्होंने 15 अगस्त 2021 को देवदूत प्रार्थना के उपरांत संत पेत्रुस महागिरजाघर में व्यक्त किया था। उन्हें उनके लिए माता मरियम के संरक्षण की याचना की थी।  

यह सहयोग जिसमें हैती के लोगों के लिए प्रार्थना और समर्थन निहित है उस मदद का हिस्सा है जो पूरी काथलिक कलीसिया की ओर से है जिसमें कई धर्माध्यक्षीय सम्मेलन एवं अनगिनत उदार संगठन जुड़े हुए हैं।  

बंगलादेश एवं वियतनाम की मदद

संत पापा फ्राँसिस ने निर्णय लिया है कि शुरूआती आपालकालिन मदद के रूप में वे तूफान यास से प्रभावित बंगलादेश को 69,000 डॉलर प्रदान करेंगे।

संत पापा फ्राँसिस के अनुदान की सूची में वियतनाम भी शामिल है जहाँ लोग कोविड-19 महामारी से जुड़े सामाजिक-आर्थिक परिणामों से जूझ रहे हैं संत पापा उन्हें 1 लाख यूरो प्रदान करेंगे।

24 August 2021, 16:26