खोज

Vatican News
संत  पेत्रुस प्रांगण में देवदूत प्रार्थना के लिए एकत्रित विश्वासी और तीर्थयात्री संत पेत्रुस प्रांगण में देवदूत प्रार्थना के लिए एकत्रित विश्वासी और तीर्थयात्री  (AFP or licensors)

संत पापा द्वारा बुडापेस्ट-स्लोवाकिया की यात्रा की घोषणा

संत पापा फ्राँसिस ने दक्षिणी अफ्रीकी राष्ट्र इस्वातिनी में अधिकारियों को बातचीत और सुलह के लिए आमंत्रित किया। उन्होंने 12 से 15 सितंबर तक हंगरी के बुडापेस्ट और पड़ोसी देश स्लोवाकिया की यात्रा की भी घोषणा की।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, सोमवार ५ जुलाई 2021 (वाटिकन न्यूज) : रविवार को देवदूत प्रार्थना का पाठ करने के बाद संत पापा फ्राँसिस ने दक्षिणी अफ्रीकी राष्ट्र इस्वातिनी की अशांति और हिंसा की खबरों को याद किया। संत पापा ने देश के अधिकारियों और देश के भविष्य के इच्छुक लोगों से अपने मतभेदों के लिए "संवाद, सुलह और शांतिपूर्ण समाधान" के लिए मिलकर काम करने का आह्वान किया।

संत पापा ने यह भी कहा कि उन्हें 12 से 15 सितंबर तक स्लोवाकिया की अपनी प्रेरितिक यात्रा की घोषणा करते हुए खुशी हो रही है। यात्रा सबसे पहले हंगरी की राजधानी बुडापेस्ट की यात्रा के साथ शुरू होती है। वहां वे 52वें अंतर्राष्ट्रीय यूखरीस्तीय कांग्रेस के समापन समारोह में भाग लेंगे। उन्होंने यात्रा के आयोजन और तैयारी करने वाले सभी लोगों के प्रति आभार व्यक्त किया, उनके लिए प्रार्थना की और सभी को ऐसा करने के लिए आमंत्रित किया।

वाटिकन प्रेस कार्यालय के निदेशक, मत्तेओ ब्रूनी ने रविवार को देवदूत प्रार्थना के बाद एक बयान जारी किया कि संत पापा फ्राँसिस ने हंगरी के "नागर अधिकारियों और धर्माध्यक्षीय सम्मेलनों के निमंत्रण को स्वीकार कर लिया"।

जारी बयान में कहा गया कि "रविवार, 12 सितंबर 2021 को संत पापा फ्रांसिस 52वें अंतर्राष्ट्रीय यूखारिस्तीय कांग्रेस के समापन पर पवित्र मिस्सा समारोह का अनुष्ठान करने के लिए बुडापेस्ट में होंगे।  बाद में, 12 से 15 सितंबर 2021 तक, वे स्लोवाकिया की यात्रा करेंगे वहाँ वे  ब्रातिस्लावा, प्रेसोव, कोसिसे और सॉस्टिन शहरों का दौरा करेंगे। यात्रा का कार्यक्रम नियत समय में प्रकाशित किया जाएगा।”

05 July 2021, 15:16