खोज

Vatican News
स्कताऊट्स एवं गाईड्स के यूरोपीय संघ  के सदसय्ों के साथ सन्त पापा फ्राँसिस, तस्वीरः 2019 स्कताऊट्स एवं गाईड्स के यूरोपीय संघ के सदसय्ों के साथ सन्त पापा फ्राँसिस, तस्वीरः 2019  (Vatican Media)

फ्राँस के स्काउट्स यूनिट को सन्त पापा फ्राँसिस का सन्देश

फ्राँस में स्काऊट संगठन की स्थापना की 50 वीं वर्षगाँठ के उपलक्ष्य में रोम आये फ्राँस के स्काऊट यूनिट के युवाओं को सन्त पापा फ्राँसिस ने शुक्रवार को सम्बोधित कर कहा कि स्काऊट यूनिट युवाओं के लिये साहस का एक संकेत है।

जूलयट जेनेवीव क्रिस्टफर-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, शुक्रवार, 14 मई 2021 (रेई,वाटिकन रेडियो): फ्राँस में स्काऊट संगठन की स्थापना की 50 वीं वर्षगाँठ के उपलक्ष्य में रोम आये फ्राँस के स्काऊट यूनिट के युवाओं को सन्त पापा फ्राँसिस ने शुक्रवार को सम्बोधित कर कहा कि स्काऊट यूनिट युवाओं के लिये साहस का एक संकेत है।

बच्चों एवं युवाओं की प्रेरिताई हेतु गठित फ्राँस के काथलिक धर्माध्यक्षीय सम्मेलन की समिति के प्रति सन्त पापा ने धन्यवाद ज्ञापित किया जिसने फ्राँस के स्काउट्स यूनिट को महत्व प्रदान करते हुए रोम की तीर्थयात्रा को उनके कार्यक्रम में शामिल किया।

स्काउट्स यूनिट आशा का संकेत

स्काउट्स यूनिट के युवाओं से सन्त पापा ने कहा, "समाज में हम प्रायः, मानवीय सम्बन्धों में गिरावट एवं प्रशिक्षण के इच्छुक युवाओं के लिये भरोसेमन्द आदर्श की कमी को पाते हैं।

वर्तमानकालीन स्वास्थ्य संकट ने इस स्थिति को और भी विकट बना दिया है, जिससे भाईचारे, मिलनसारी और नए मित्र बनाने के लिए मिलने की संभावना भी कम हो गई है। 

इन सभी कठिनाइयों के समक्ष, आपका स्काउट यूनिट युवा लोगों के लिए प्रोत्साहन का संकेत है, क्योंकि यह उन्हें सपने देखने, कार्य करने तथा भविष्य को आशा के साथ देखने का साहस रखने के लिए आमंत्रित करता है। 

चरित्र और व्यक्तित्व निर्माण

सन्त पापा ने कहा कि सच तो यह है कि स्काऊट यूनिट के सदस्य अपने से छोटों की मदद के लिये विख्यात हैं। वे बड़े भाई के सदृश छोटों का साथ देते तथा धैर्यपूर्वक प्रभु से प्राप्त प्रतिभाओं को खोजने और फलदायी बनाने में उनकी मदद करते हैं। इस प्रकार सन्त पापा ने कहा कि स्काऊट यह दर्शाते हैं कि कैसे "हम सभी को वास्तविक मानवीय रिश्तों को जीने की जरूरत है, विशेष रूप से, उस काल में जिसमें व्यक्ति का चरित्र और व्यक्तित्व बनता है।"

स्काऊट मिशन

सन्त पापा ने कहा कि स्काऊस्ट पड़ोसी की मदद की तत्परता सहित कलीसिया एवं विश्व की सहायता के लिये भी आमंत्रित है, एक ऐसी कलीसिया जो सबके लिये उपलभ्य हो तथा एक ऐसा विश्व जो मानवीय मूल्यों से परिपूर्ण हो। उन्होंने कहा कि स्काऊट्स यूनिट के सदस्य अपने नेक मिशन द्वारा समाज के नवीकरण के योद्धा बन सकते हैं।

सन्त पापा ने कहा कि सुसमाचार से प्रेरणा प्राप्त कर स्काऊट्स के सदस्य मानव रिश्तों को मज़बूत करने तथा जन कल्याण में योगदान करने में सक्षम बनेंगे।

सुसमाचार को साझा करें

सन्त पापा ने कहा, "मैं आपको आमंत्रित करता हूं कि आप दुनिया के स्वार्थ से निराश न हों, अपने आप को अपने में ही न समेटें, कभी भी आदर्शों एवं सपनों रहित निष्क्रिय युवा न बनें। 

इस तथ्य को कभी न भूलें कि प्रभु आप सबको बिना किसी भय के मिशनरी घोषणा को पूरा करने के लिए बुलाते हैं, विशेष रूप से, युवाओं के बीच, आपके पड़ोस में, खेलकूद में, जब आप दोस्तों के साथ, या जब भी काम पर जाते हैं, आप हमेशा और हर ख्रीस्त के सुसमाचार के आनन्द को साझा करें जो जीवन का स्रोत है।

14 May 2021, 11:39