खोज

Vatican News
संत पापा फ्राँसिस संत पापा फ्राँसिस  (AFP or licensors)

हम पवित्र आत्मा का उपहार भेजने हेतु प्रार्थना करें, संत पापा

संत पापा फ्राँसिस ने ट्वीट कर सभी विश्वासियों को प्रार्थना में अपने मन भटकाव के बारे में जागरूक रहने और उसे प्रभु के चरणों में समर्पित करने की प्रेरणा दी। संत पापा ने पर्यावरण की रक्षा हेतु जीवाश्म ईंधन के उपयोग पर आधारित प्रौद्योगिकी को प्रतिस्थापित करने की आवश्यकता पर ध्यान आकर्षित कराया।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, बुधवार 19 मई 2021 (रेई) : बुधवारीय आमदर्शन समारोह के दौरान संत पापा फ्राँसिस ने ‘प्रार्थना’ पर धर्म शिक्षा दी। इस के मद्देनजर उन्होंने ट्वीट कर प्रार्थना में बने रहने हेतु प्रेरित किया। साथ ही लौदातो सी सप्ताह में अत्यधिक प्रदूषणकारी जीवाश्म ईंधन के उपयोग के बंद करने को कहा।

1ला ट्वीट

संत पापा ने लिखा, "जब हम प्रार्थना के दौरान अपने मन भटकाव के बारे में जागरूक हो जाते हैं, तो उसका सामना करने के लिए हमें जो मदद मिलती है, वह यह है कि हम विनम्रतापूर्वक अपने हृदय को प्रभु को अर्पित करें ताकि वे इसे शुद्ध कर सकें और हम फिर से उन पर ध्यान केंद्रित कर सकें।"

2रा ट्वीट

संदेश में संत पापा ने लिखा, "पेन्तेकोस्त के पर्व की तैयारी के इन दिनों में, आइए हम प्रभु से पवित्र आत्मा का उपहार भेजने के लिए कहें ताकि हम अपने जीवन में विनम्रता और आनंद के साथ प्रार्थना में लगे रहें और ज्ञान व दृढ़ संकल्प के साथ कठिनाइयों पर विजय प्राप्त कर सकें।"

3रा ट्वीट

कलीसिया इस सप्ताह को लौदातो सी सप्ताह के रुप में मना रही है। संत पापा ने  ट्वीटकर पर्यावरण की रक्षा हेतु जीवाश्म ईंधन के उपयोग पर आधारित प्रौद्योगिकी को प्रतिस्थापित करने की आवश्यकता पर ध्यान आकर्षित कराया।

संदेश में उन्होंने लिखा," अत्यधिक प्रदूषणकारी जीवाश्म ईंधन के उपयोग पर आधारित प्रौद्योगिकी को बिना किसी देरी के प्रतिस्थापित करने की आवश्यकता है। इसकी आशा करने का कारण है कि 21वीं सदी की शुरुआत में मानवता को अपनी गंभीर जिम्मेदारियों को उदारतापूर्वक निभाने के लिए याद किया जाएगा।" #लौदातो सी सप्ताह

19 May 2021, 15:04