खोज

Vatican News
चीनी कलीसिया प्रार्थना करती हुई चीनी कलीसिया प्रार्थना करती हुई 

संत पापा द्वारा चीनी कलीसिया के साथ प्रार्थना करने का आह्वान

रविवार को स्वर्ग की रानी प्रार्थना के बाद संत पापा फ्राँसिस ने दुनिया भर के विश्वासियों को चीनी काथलिकों के साथ प्रार्थना में सम्मिलित होने के लिए आमंत्रित किया। वे अपनी राष्ट्रीय संरक्षिका ‘ख्रीस्तियों की सहायिका माता मरियम’ का पर्व मनाने की तैयारी कर रहे हैं।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, सोमवार 24 मई 2021 (वाटिकन न्यूज) : संत पेत्रुस महागिरजाघर के प्रांगण में स्वर्ग की रानी प्रार्थना का पाठ करने के बाद संत पापा ने कहा, "चीन के काथलिक विश्वासी कल ख्रीस्तियों की सहायता एवं उनके देश की स्वर्गीय संरक्षिका धन्य कुँवारी मरियम का पर्व मनाते हैं। प्रभु और कलीसिया की माता को शंघाई के शेशान तीर्थस्थल में विशेष भक्ति दी जाती है और दैनिक जीवन की परीक्षाओं एवं आशाओं में ख्रीस्तीय परिवारों के लिए आह्वान की जाती है।"

संत पापा ने कहा, "परिवार के सदस्यों एवं ख्रीस्तीय समुदायों के लिए यह कितना अच्छा एवं आवश्यक है कि वे हमेशा प्रेम एवं विश्वास में एक बने रहें। इस तरह माता-पिता एवं बच्चे, दादा-दादी और पोता-पोती एवं बच्चे तथा विश्वासी प्रथम शिष्यों का अनुसरण कर सकें जो पेंतेकोस्त के समय माता मरियम के साथ प्रार्थना में एकजुट थे और पवित्र आत्मा का इंतजार कर रहे थे।”

 संत पापा ने सभी विश्वासियों को उत्कट प्रार्थना के साथ चीन के विश्वासियों का साथ देने का निमंत्रण दिया। जिन्हें वे अपने दिल की गहराई में रखते हैं। पवित्र आत्मा, विश्व में कलीसिया के मिशन के नायक उन्हें अपनी मातृभूमि में सुसमाचार के वाहक बनने, अच्छाई और उदारता एवं न्याय तथा शांति के निर्माता बनने में मदद दे और उनका मार्गदर्शन करे।"

चीनी कलीसिया हेतु एक दिवसीय प्रार्थना

2007 में, संत पापा बेनेडिक्ट सोलहवें ने पूरी दुनिया के काथलिकों को ‘ख्रीस्तियों की सहायिका माता मरियम’ के पर्व - 24 मई - को चीन की कलीसिया के लिए प्रार्थना के दिन के रूप में चिह्नित करने के लिए प्रोत्साहित किया। चीनी विश्वासियों को लिखे एक पत्र में, उन्होंने चीनी काथलिकों को इस दिन को मनाने के लिए प्रोत्साहित किया, "हमारे प्रभु येसु में विश्वास और परमाध्यक्ष के प्रति विश्वसनीयता को नवीनीकृत करके और प्रार्थना द्वारा आप के बीच एकता और भी गहरी और अधिक दृश्यमान हो।"

उसी दिन, उन्होंने कहा, "पूरी दुनिया के काथलिक - विशेष रूप से जो चीनी मूल के हैं - आपके लिए अपने भाईचारे की एकजुटता और एकात्मता का प्रदर्शन करेंगे, इतिहास के ईश्वर से गवाही में दृढ़ता के उपहार के लिए प्रार्थना करेंगे। येसु के पवित्र नाम से आपके अतीत और वर्तमान के कष्ट और पृथ्वी पर उनके प्रतिनिधि के प्रति आपकी निडर निष्ठा को पुरस्कृत किया जाएगा, भले ही कभी-कभी सब कुछ विफल सा लगता है।”

विश्वव्यापी कलीसिया की निकटता

पिछले वर्ष, चीन की कलीसिया के लिए प्रार्थना दिवस को चिह्नित करते हुए, संत पापा फ्राँसिस ने चीनी काथलिकों को आश्वासन दिया कि "विश्वव्यापी कलीसिया, जिसका आप एक अभिन्न अंग हैं, आपकी आशाओं को साझा करता है और आपके परीक्षणों में आपका समर्थन करता है। विश्वव्यापी कलीसिया प्रार्थना करती है कि पवित्र आत्मा आप पर उतरे, ताकि सुसमाचार का प्रकाश और सुंदरता आप में विश्वास करने वालों के उद्धार के लिए ईश्वर की शक्ति के रूप में चमक सके।

उस अवसर पर, संत पापा फ्राँसिस ने प्रार्थना की कि चीनी विश्वासी अपने विश्वास दृढ़ हो, भ्रातृत्व में मजबूत बनें, हर्षित गवाह, उदारता और आशा के प्रवर्तक एवं अच्छे नागरिक बनें।"

24 May 2021, 16:03