खोज

Vatican News
रोजरी प्रार्थना करते हुए संत पापा फ्राँसिस रोजरी प्रार्थना करते हुए संत पापा फ्राँसिस  (ANSA)

संत पापा द्वारा वाटिकन में रोज़री प्रार्थना मैराथन की शुरुआत

संत पापा फ्राँसिस ने शनिवार को विश्वासियों के साथ संत पेत्रुस महागिरजाघर से रोजरी प्रार्थना का नेतृत्व करते हुए महामारी की समाप्ति के लिए ‘प्रार्थना के मैराथन’ का उद्घाटन किया।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, सोमवार 3 मई 2021 : संत पापा ने कोविद -19 महामारी के अंत के लिए पूरे मई महीने तक चलने वाले ‘प्रार्थना के मैराथन’ का उद्घाटन, शनिवार को विश्वासियों के साथ संत पेत्रुस महागिरजाघर से रोजरी प्रार्थना से किया।

पहल की घोषणा करते हुए एक प्रेस विज्ञप्ति में, नवीन सुसमाचार प्रचार हेतु गठित परमधर्मपीठीय परिषद बताती है कि "संत पापा फ्राँसिस की हार्दिक इच्छा के जवाब में, मई का महीना ‘प्रार्थना के मैराथन' के लिए समर्पित होगा। संत पापा ने महामारी के अंत के लिए पूरे विश्व के विश्वासियों को रोजरी प्रार्थना करने हेतु प्रेरित किया, जिसने अब एक साल से अधिक समय तक दुनिया को पीड़ित किया है।

एक पीड़ित दुनिया के लिए

शनिवार शाम वाटिकन महागिरजाघर में संत पापा फ्राँसिस के आगमन पर युवा लोगों के एक समूह ने जलती मोमबत्तियां लिए उनका स्वागत किया। महागिरजाघऱ के अंदर युवाओं ने संत पापा की अगुवाई ग्रेगोरियन चैपल तक किया, जहाँ ‘मादोन्ना देल सोकोर्सो’ (नित्य सहायिका माता मरियम) की प्राचीन छवि है।

प्रार्थना शुरु करने से पहले संत पापा ने कहा, "माता मरियम को समर्पित इस महीने की शुरुआत में हम पूरी दुनिया में फैले मरियम तीर्थालयों के विश्वासियों और भली इच्छा रखने वाले सभी लोगों के साथ प्रार्थना में शामिल होते हैं, हम हमारी माता मरियम के हाथों पूरी मानव जाति को समर्पित करते हैं जो इस महामारी से पीड़ित हैं।”

उन्होंने कहा, “आने वाले महीने के प्रत्येक दिन, "बहुत से लोग जो वायरस से प्रभावित हुए हैं और जो महामारी के परिणाम भुगतना जारी रखते हैं, उन्हें हम धन्य कुवांरी मरियम, "करुणा की माता" को समर्पित करेंगे।”

संत पापा द्वारा परिचयात्मक प्रार्थना के बाद, रोज़री माला के भेद को रोम और लाज़ियो क्षेत्र के परिवारों के साथ-साथ नवीन सुसमाचार प्रचार आंदोलनों के युवा प्रतिनिधियों के नेतृत्व में किया गया। स्तति विन्ती के बाद, संत पापा फ्राँसिस ने महामारी से प्रभावित सभी लोगों के लिए एक विशेष प्रार्थना की, जिनमें वे भी शामिल हैं जिन्होंने प्रियजनों को खो दिया है, डॉक्टर, नर्स और स्वास्थ्य देखभाल कर्मी, वैज्ञानिक और दुनिया के नेतागण, पुरोहित और प्रेरितिक कार्यकर्ता जो बीमारों की सहायता करते हैं।

समारोह के समापन पर, संत पापा ने विशेष 31 रोज़रियों को आशीर्वाद दिया जो प्रार्थना के मैराथन में भाग लेने वाले इकतस मरियम तीर्थालयों में भेजे जाएंगे।

बिना किसी रुकावट के मध्यस्थता

नवीन सुसमाचार प्रचार हेतु गठित परमधर्मपीठीय परिषद की ओर से "दुनिया भर में हर तीर्थालय को स्थानीय रूप से इस्तेमाल की जाने वाली भाषा और तरीके से प्रार्थना करने के लिए आमंत्रित किया जाता है, सामाजिक जीवन, काम और कई मानव गतिविधियों को फिर से शुरू करने के लिए कहा जाता है, जो महामारी के दौरान निलंबित कर दिए गए थे।"

मई के दौरान प्रत्येक दिन अलग-अलग मरियम तीर्थालय से अगुवाई की गई रोज़री प्रार्थना का प्रसारण वाटिकन मीडिया द्वारा किया जाएगा, जो कि रोम के समय अनुसार 6 बजे शाम से शुरू होगा। आप हमारे वाटिकन न्यूज वेब पोर्टल, फेसबुक और यूट्यूब चैनलों पर या दुनिया भर में हमारे साथी संगठनों द्वारा रेडियो या टेलीविजन प्रसारण के माध्यम से प्रार्थना की मैराथन में शामिल हो सकते हैं।

तीर्थस्थलों की सूची एवं प्रार्थना का मतलब

 

 तिथि

तीर्थस्थल

देश

महादेश

प्रार्थना मतलब

 

वाटिकन महागिरजाघर

वाटिकन

यूरोप

पूरे विश्व के लिए जो महामारी से पीड़ित है।

1

वालसिंगघम की माता मरियम

इंगलैंड

यूरोप

सभी मृतकों के लिए।

2.

येसु मुक्तिदाता एवं माता मरियम (एलेले)

नाईजीरिया

अफ्रीका

उन लोगों के लिए जो अपने मृत प्रियजनों को अंतिम विदाई नहीं दे पाये।

3

चेस्तोकोवा की माता मरियम

पोलैंड

यूरोप

कोरोना वायरस से संक्रमित सभी पड़ितों एवं बीमार लोगों के लिए।

4

दूत संदेश महागिरजाघर

(नाजरेथ में)

इस्राएल

एशिया

सभी गर्भवती महिलाओं एवं उनके अजन्में शिशुओं के लिए।

5

रोजरी की धन्य कुँवारी

(नामयंग में)

दक्षिणी कोरिया

एशिया

सभी बच्चों एवं किशोरों के लिए।

6

अपारेचिदा की माता मरियम (संत पाओलो)

ब्राजील

अमरीका

सभी युवाओं के लिए।

7

शांति और शुभयात्रा की माता (अंतिपोलो)

फिलीपींस

एशिया

सभी परिवारों के लिए।

8

लुजान की माता मरिया

अर्जेंटीना

अमरीका

संचार विभाग में काम करने वाले सभी कर्मचारियों।

9

लोरेटो का पवित्र घर

इटली

यूरोप

सभी बुजूर्गों के लिए।

10

नोक की माता मरियम

आयरलैंड

यूरोप

सभी विकलांग लोगों के लिए।

11

गरीबों की कुँवारी मरियम

बेल्जियम

यूरोप

सभी गरीब, बेघर और आर्थिक रूप से परेशान लोगों के लिए।

12

अफ्रीका की माता मरियम (अल्जीरिया)

अल्जीरिया

अफ्रीका

जो अकेले रहते हैं और जिन्होंने आशा खो दी है।

13

रोजरी की माता मरियम

(फातिमा)

पुर्तगाल

यूरोप

सभी कैदियों के लिए।

14

स्वस्थ की माता मरियम (वेलांकनी)

भारत

एशिया

सभी वैज्ञानिक एवं मेडिकल शोधकर्ता संस्थानों के लिए।

15

शांति की रानी माता मरियम (मेजोगोरिया)

बोसिन्या

यूरोप

सभी आप्रवासियों के लिए।

16

संत मरियम महागिरजाघर (सिडनी)

ऑस्ट्रेलिया

ओसेनिया

हिंसा एवं मानव तस्करी के शिकार लोगों के लिए।

17

निष्कलंक गर्भागमन (वॉशिंगटन डी.सी.)

अमरीका

अमरीका

सभी राष्ट्रों के नेताओं एवं अंतरराष्ट्रीय संगठनों के शीर्ष अधिकारियों के लिए।

18

लूर्द की माता मरियम

फ्राँस

यूरोप

सभी डॉक्टर्स एवं नर्सों के लिए।

19

संत मरिया का घर

तुर्की

एशिया

युद्धग्रस्त सभी लोगों के लिए एवं शांति के लिए।

20

कोब्रे की माता मरियम

क्यूबा

अमरीका

 सभी दवाखानों में काम करनेवालों एवं स्वास्थ्यकर्मियों के लिए।

21

नागासाकी की माता मरियम

जापान

एशिया

सभी सामाजिक कार्यकर्ताओं के लिए।

22

मोंतसेर्रात की माता मरियम

स्पेन

यूरोप

सभी स्वयंसेवकों के लिए।

23

कैप की माता मरियम

कनाडा

अमरीका

सभी कानून प्रवर्तन और सैन्यकर्मी एवं अग्निशमन में काम करनेवालों के लिए।

24

पुष्टि करना है

पुष्टि करना है

-

उन सभी लोगों के लिए जो आवश्यक सेवा प्रदान करते हैं

25

ता पिनू की धन्य कुँवारी मरियम

माल्टा

यूरोप

सभी शिक्षकों, विद्यार्थियों और शिक्षण विभाग के लिए।

26

ग्वादालुपे की माता मरियम

मेक्सिको

अमरीका

सभी कर्मचारियों एवं व्यापारियों के लिए।

27

ईश्वर की माता

यूक्रेन

यूरोप

सभी बेरोजगार लोगों के लिए।

28

अलतोत्तिंग की काली माता

जर्मनी

यूरोप

पोप, धर्माध्यक्षों, पुरोहितों एवं उप-याजकों के लिए।

29

लेबनान की माता मरिया

लेबनान

एशिया

सभी समर्पित स्त्रियों एवं पुरूषों के लिए।

30

पोम्पेई की धन्य कुँवारी मरिया

इटली

यूरोप

कलीसिया के लिए।

31

वाटिकन उद्यान

वाटिकन

यूरोप

महामारी के अंत एवं हमारे सामाजिक एवं आर्थिक जीवन की पुनः शुरूआत के लिए।

 

03 May 2021, 16:11