खोज

Vatican News
संत पापा फ्राँसिस पुरोहिताभिषेक मिस्सा  के दौरान संत पापा फ्राँसिस पुरोहिताभिषेक मिस्सा के दौरान 

‘बुलाहट के लिए विश्व प्रार्थना दिवस’ पर संत पापा का ट्वीट संदेश

काथलिक कलीसिया ने 25 अप्रैल को बुलाहट के लिए 53वाँ विश्व प्रार्थना दिवस मनाया। इस दिन संत पापा फ्राँसिस ने 9 डीकनों का पुरोहिताभिषेक किया। साथ ही भूमध्य सागर में डूबने वाले 130 प्रवासियों के लिए अपनी संवेदना प्रकट की।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, सोमवार 25 अप्रैल 2021 (रेई) : संत पापा फ्राँसिस ने रविवार 25 अप्रैल बुलाहट के लिए 53वाँ विश्व प्रार्थना दिवस पर संत पेत्रुस महागिरजाघर में 9 नये पुरोहितों का अभिषेक किया। साथ ही दोपहर को संत पेत्रुस महागिरजाघर के प्रांगण में उपस्थित विश्वासियों के साथ स्वर्ग की रानी का पाठ किया। इसके पश्चात संत पापा ने गत गुरुवार भूमध्य सागर में डूबने वाले 130 प्रवासियों के लिए अपनी संवेदना प्रकट करते हुए प्रार्थना की अपील की। इस दिन संत पापा ने विभिन्न मुद्दों पर निम्नलिखित 6 ट्वीट किया।

1ला ट्वीट

पुरोहितिक बुलाहट में माता-पिताओं की भूमिका को संकेत करते हुए संत पापा ने ट्वीट में लिखा, ʺप्रभु पिता और माताओं को दरियादिली बनाना चाहते हैं, जो महान पहल करने में सक्षम, चिंताओं को शांत करने में उदार, दयालु और आशाओं को मजबूत करने में दृढ़ बनें। पुरोहितों और धर्मसंघियों को इन गुणों की बहुत आवश्यकता होती है।ʺ #प्रार्थना #बुलाहट

2रा ट्वीट

ईश्वर की योजना के अनुसार जीवन व्यतीत करने वाले संत जोसेफ का उदाहरण देते हुए संत पापा ने ट्वीट में लिखा,  ʺसंत जोसेफ ईश्वर की योजनाओं को स्वीकार करने का एक उत्कृष्ट उदाहरण हैं। वे हर किसी की मदद करें, विशेषकर उन लोगों को जो ईश्वर के सपने को सच करने के लिए आत्मचिंतन कर रहे हैं। वे उन्हें प्रभु को "हाँ" कहने का साहस प्रदान करें जो हमेशा आश्चर्यचकित करते हैं और कभी निराश नहीं करते।ʺ #प्रार्थना #बुलाहट

3रा ट्वीट

दैनिक कठिनाईयों का सामना करते हुए अपने बुलाहटीय जीवन में आगे बढ़ने हेतु संत पापा ने लिखा, ʺडरो नहीं: प्रिय बहन और भाई, ये आपके लिए प्रभु का संबोधन है,  जब भी आपको लगता है कि आप अब उसे अपना जीवन देने की इच्छा में और देरी नहीं कर सकते। यह उन सभी के लिए है जो दैनिक निष्ठा के माध्यम से अपने जीवन में प्रभु को हाँ कहते हैं।ʺ  #प्रार्थना #बुलाहट

4था ट्वीट

रविवार को संत योहन के सुसमाचार से लिये गये पाठ भला चरवाहा पर चिंतन करते हुए संत पापा ने संदेश में लिखा,ʺयेसु भला चरवाहा अपनी भेड़ों को जानता, रक्षा करता और सबसे ऊपर उन्हें प्यार करता है, यही कारण है कि वह उनके लिए अपना जीवन देता है। हम में से हर एक के लिए, अपनी भेड़ के लिए प्यार के खातिर उसने  क्रूस पर मरना स्वीकार किया। इसलिए पिता की इच्छा यह है: कोई भी खोना नहीं चाहिए।ʺ # दैनिक सुसमाचार (योहन 10: 11-18)

5वां ट्वीट

संत पापा ने 9 नये अभिषिक्त पुरोहितों को ईश्वर की शैली में जीवन बिताने की प्रेरणा देते हुए संदेश में लिखा,  ʺभला चरवाहा होने के नाते, येसु अपने चरवाहों को सांत्वना देते हैं। यदि आप प्रभु के करीब, धर्माध्यक्ष के करीब, खुद के करीब और ईश्वर के लोगों के करीब बने रहते हैं, यदि आप ईश्वर की शैली नजदीकी, करुणा और कोमलता को बनाए रखते हैं,तो आपको डरने की ज़रूरत नहीं है: सब कुछ ठीक तरह से रहेगा।ʺ # पुरोहिताभिषेक

6वां ट्वीट

संत पापा ने भूमध्य सागर में डूबने वाले 130 प्रवासियों के लिए अपनी संवेदना प्रकट करते हुए ट्वीट संदेश में लिखा, ʺमैं उस त्रासदी से बेहद दुखी हूँ जो एक बार फिर से भूमध्य सागर में हुई है। समुद्र में 130 प्रवासियों की मौत हो गई। वे मनुष्य हैं। वे इंसान हैं। आइए, हम इन भाइयों और बहनों के लिए प्रार्थना करें और उन सभी के लिए जो सागर पार करते समय मौत का सामना करते हैं।ʺ

26 अप्रैल का ट्वीट

संत पापा फ्राँसिस ने दूसरों की सेवा के मर्म को समझाते हुए ट्वीट किया, ʺआइए, हम अपने पड़ोसियों को हमारे प्रति अच्छा बनने की प्रतीक्षा करने से पहले, खुद उनके प्रति अच्छा बनें। हमारी सेवा के लिए दूसरे हमारा सम्मान करें, इससे पहले हम उनका सम्मान करें। आइये, हम अपने में इसकी शुरूआत करें।ʺ

26 April 2021, 14:37