खोज

Vatican News
फ्रांसीसी मिशनरी धन्य चार्ल्स डे फौकाउल्ड फ्रांसीसी मिशनरी धन्य चार्ल्स डे फौकाउल्ड 

संत पापा द्वारा संत घोषणा पर स्वीकृति हेतु कंसिस्ट्री की घोषणा

संत पापा फ्राँसिस के नेतृत्व में कार्डिनल सात धन्यों के संत प्रकरण को आगे बढ़ाने हेतु मतदान करेंगे, जिनमें धन्य चार्ल्स डे फौकाउल्ड और पहले भारतीय लोकधर्मी को उस पद तक बढ़ाया जाएगा।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, सोमवार 26 अप्रैल 2021 (वाटिकन न्यूज) : संत पापा फ्राँसिस सोमवार 3 मई को रोम के समय अनुसार 10 बजे अपराहन प्रेरितिक भवन के कंसिस्ट्री सभागार में संत घोषणा हेतु प्रस्तावित आज्ञप्तियों पर कार्डिनलों के मतदान हेतु सामान्य लोक सभा परिषद की बैठक का नेतृत्व करेंगे।

कार्डिनल जो रोम में निवास करते हैं या शहर में मौजूद हैं, उन्हें कोविद -19 विरोधी एहतियाती उपायों को ध्यान में रखते हुए भाग लेने के लिए आमंत्रित किया जाता है।

संत घोषणा हेतु सात प्रस्तावित आज्ञप्तियों को कार्डिनलों द्वारा अनुमोदन के लिए चुना गया है, जिनमें फ्रांसीसी मिशनरी चार्ल्स डे फौकाउल्ड हैं जो 1916 में अल्जीरिया में मारे गए थे और धन्य लाजर, देवसहायम हैं। वे 18 वीं शताब्दी के विवाहित हिंदू थे, जिसने काथलिक धर्म को स्वीकार किया था । वे भारत में धन्य के पद पर पहुंचने वाले पहले लोकधर्मी हैं।

बाकी पांच के नाम इस प्रकार हैः

- धन्य सीज़र डी बुस, पुरोहित और फादर्स ऑफ क्रिस्टियन डाक्ट्रिन धर्मसंघ (डोक्ट्रिनारियन) के संस्थापक।

- धन्य लुइजी मारिया पलाज़ोलो, पुरोहित, और गरीबों की धर्मबहनों के धर्मसमाज के संस्थापक, जिन्हें पालाज़ोलो संस्थान के नाम से भी जाना जाता है।

- धन्य जुस्तीनो मारिया रोसिल्लो, पुरोहित, 1919 में सोसाइटी ऑफ डिवाइन वोकेशन (वोकेशनिस्ट्स) के संस्थापक, जिन्होंने पुरोहिताई और धर्मसंघी जीवन की बुलाहट पर चिंतन करने वाले लोगों को प्रोत्साहित किया और उनका समर्थन किया।

- धन्य मारिया फ्रांसेस्का दी येसु, मदर रूबातो की कपुचिन धर्मबहनों के धर्मसंघ की संस्थापिका।

- धन्य मारिया डोमेनिका मंटोवानी, पवित्र परिवार की छोटी बहनों के धर्मसंघ की सह-संस्थापिका और पहली सुपीरियर जनरल।

संत पापा फ्राँसिस द्वारा संत प्रकरण हेतु अनुमोदन दे दिये जाने के बाद कार्डिनलों का वोट अंतिम औपचारिकता है। सामान्य लोक सभा परिषद में कार्डिनलों की स्वीकृति मिलने के बाद कलीसिया संत घोषणा के लिए दिन निर्धारित करेगी।

26 April 2021, 14:09