खोज

Vatican News
बंगलादेश के रोहिंग्या शरणार्थी शिविर में लगी आग बंगलादेश के रोहिंग्या शरणार्थी शिविर में लगी आग  

रोहिंग्या शरणार्थी शिविर में आग के शिकार लोगों के लिए पोप की सहानुभूति

संत पापा फ्राँसिस ने बंगलादेश के रोहिंग्या शरणार्थी शिविर में लगी आग के शिकार लोगों के प्रति सहानुभूति प्रकट करते हुए उनके लिए प्रार्थना करने का आह्वान किया।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, बृहस्पतिवार, 25 मार्च 2021 (रेई)- संत पापा ने 25 मार्च को एक ट्वीट प्रकाशित कर कहा, "बंगलादेश के रोहिंग्या शरणार्थी शिविर में लगी आग के शिकार एवं लापता बताये जा रहे लोगों के लिए हम एक साथ प्रार्थना करें, जिसने हजारों लोगों का उदारता से स्वागत किया था। आइये हम उन 20 हजार भाइयों एवं बहनों के लिए प्रार्थना करें, जिन्होंने अपने पास जो थोड़ा था उसे खो दिया।" 

नवभारत टाइम्स के अनुसार दक्षिणी बांग्लादेश के रोहिंग्या शरणार्थी शिविर में सोमवार को भीषण आग लगने से सैंकड़ों घरों को नुकसान पहुंचा है। बताया जा रहा है कि हजारों की संख्या में यहां रह रहे रोहिंग्या शरणार्थी बेघर हो गए हैं। बांग्लादेश की सरकार ने म्यांमार से जान बचाकर भागे रोहिंग्याओं के लिए कॉक्स बाजार के पास एक बड़ा शरणार्थी शिविर बनाया हुआ है।

संत पापा का दूसरा ट्वीट संदेश

पोप फ्राँसिस ने मरियम को येसु के जन्म के संदेश के पर्वदिवस पर माता मरियम की याद करते हुए उन्हें एक मार्ग कहा जिसपर चलकर ईश्वर हमारे पास आये।

उन्होंने ट्वीट संदेश में कहा, "मरियम न केवल एक सेतु हैं जो हमें ईश्वर से जोड़ती हैं, बल्कि वे उससे बढ़कर हैं। वे एक मार्ग हैं जिसपर चलकर हमारे पास आये और वही वह रास्ता है जिसपर हम चलकर उनके पास पहुँच सकते हैं।"

25 March 2021, 15:07