खोज

Vatican News
इटली के फ्लोरेन्स शहर के संग्रहालय में महाकवि एवं दार्शनिक दान्ते इटली के फ्लोरेन्स शहर के संग्रहालय में महाकवि एवं दार्शनिक दान्ते   (AFP or licensors)

महाकवि दान्ते की सात सौवीं पुण्य तिथि पर सन्त पापा ने किया ट्वीट

सन्त पापा फ्राँसिस ने गुरुवार को इटली के महाकवि एवं दार्शनिक दान्ते आलिगियेरी की सात सौवीं पुण्य तिथि के अवसर पर एक ट्वीट प्रकाशित कर कहा कि इस कठिन घड़ी में महाकवि दान्ते का व्यक्तित्व हमें विश्वास के साथ आगे बढ़ने में मदद प्रदन कर सकता है।

जूलयट जेनेवीव क्रिस्टफर-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, शुक्रवार, 26 मार्च 2021 (रेई,वाटिकन रेडियो): सन्त पापा फ्राँसिस ने गुरुवार को इटली के महाकवि एवं दार्शनिक दान्ते आलिगियेरी की सात सौवीं पुण्य तिथि के अवसर पर एक ट्वीट प्रकाशित कर कहा कि इस कठिन घड़ी में महाकवि दान्ते का व्यक्तित्व हमें विश्वास के साथ आगे बढ़ने में मदद प्रदन कर सकता है।

सन्त पापा का ट्वीट

गुरुवार, 25 मार्च को सन्त पापा फ्राँसिस ने एक ट्वीट सन्देश में लिखा, "परछाइयों से घिरे इस विशिष्ट ऐतिहासिक एक कठिन क्षण में आशा के नबी दान्ते का व्यक्तित्व शान्ति एवं साहस के साथ हमें जीवन एवं विश्वास की उस तीर्थयात्रा में अग्रसर होने में मदद प्रदान कर सकता है, जिसे पूरा करने के लिये हम सब बुलाये गये हैं।"  

दान्ते आलिगियेरी

इटली में जन्में 13 वीं शताब्दी के महाकवि दान्ते आलिगियेरी अपनी कृति "डिवाइन कॉमेडी" के लिये विश्व विख्यात हैं। डिवाइन कॉमेडी इटली के टस्कन प्रान्त की भाषा में रची गई एक लम्बी कविता है, जिसमें दान्ते ने मृत्यु के बाद, नर्क, शोधक अग्नि एवं स्वर्ग से गुज़रती मानव आत्मा की स्थिति पर मनन-चिन्तन द्वारा नैतिक मूल्यों के प्रति मनुष्यजाति का ध्यान आकर्षित किया है। महाकवि दान्ते आलिगियेरी को इताली भाषा के पितामह माना जाता है।   

26 March 2021, 11:08