खोज

Vatican News
संत पेत्रुस महागिरजाघर में मिस्सा का अनुष्ठान करते हुए संत पापा फ्राँसिस संत पेत्रुस महागिरजाघर में मिस्सा का अनुष्ठान करते हुए संत पापा फ्राँसिस  (ANSA)

संत पापा फ्राँसिस के पवित्र सप्ताह 2021 का कार्यक्रम

इस साल पवित्र सप्ताह के लिए वाटिकन प्रेस कार्यालय ने संत पापा फ्राँसिस का कार्यक्रम जारी किया। पवित्र गुरुवार को अंतिम व्यारी धर्मविघि की अध्यक्षता कार्डिनल जोवानी बतिस्ता रे द्वारा की जाएगी और पवित्र शुक्रवार के क्रूस मार्ग की यात्रा का मनन चिंतन एक स्काउट्स समूह, एक रोमन पल्ली और अन्य युवाओं द्वारा तैयार और अनुप्राणित किया जाएगा।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, बुधवार 24 अप्रैल 2021 (वाटिकन न्यूज) : वाटिकन प्रेस कार्यालय ने मंगलवार को संत पापा का धर्मविधि समारोहों की व्यवस्था करने वाली समिति के अध्यक्ष मोन्सिन्योर ग्वीदो मारिनी द्वारा पवित्र सप्ताह के उत्सव के कार्यक्रम का विवरण जारी किया, जिसकी अध्यक्षता संत पापा फ्रांसिस करेंगे।

 पवित्र सप्ताह के कार्यक्रम

- 28 अप्रैल को, खजूर रविवार का पवित्र मिस्सा संत पेत्रुस महागिरजाघर में 10:30 बजे के लिए निर्धारित किया गया है।

- 1 अप्रैल, गुरुवार को क्रिस्मा मिस्सा, संत पेत्रुस महागिरजाघर में सुबह 10:00 बजे होगा और इसकी अध्यक्षता संत पापा फ्राँसिस करेंगे। उसी दिन बाद में, प्रभु भोज का संध्या मिस्सा शाम 6:00 बजे होगा। इसकी अध्यक्षता कार्डिनल मंडल के डीन कार्डिनल जोवानी बत्तिस्ता रे करेंगे।

- 2 अप्रैल को पवित्र शुक्रवार को संत पेत्रुस महागिरजाघर में प्रभु के दुखभोग का समारोह शाम 6:00 बजे शुरू होगा। बाद में, क्रूस मार्ग की यात्रा धर्मविधि रात 9:00 बजे को वाटिकन के संत पेत्रुस महागिरजाघर के प्रांगण में होगा।

-3 अप्रैल, पवित्र शनिवार को पास्का जागरण मिस्सा समारोह संत पेत्रुस महागिरजाघर में शाम 7:30 बजे आयोजित किया जाएगा। पास्का रविवार को सुबह 10:00 बजे संत पेत्रुस महागिरजाघर में पास्का महोत्सव का पवित्र मिस्सा मनाया जाएगा, जिसके बाद दोपहर में संत पापा फ्राँसिस पारंपरिक उर्बी एत ओरबी आशीर्वाद देंगे।

ये सभी आयोजन कोविद -19 महामारी के प्रसार को रोकने के लिए एहतियाती उपायों के साथ विश्वासियों की सीमित उपस्थिति में संपन्न किये जाएंगे।

क्रूस मार्ग यात्रा की धर्मविधि

संत पापा फ्राँसिस ने इस साल के पवित्र शुक्रवार के क्रूस मार्ग की यात्रा धर्मविधि के मनन चिंतन की तैयारी अगासी स्काउट ग्रुप "फोलिनो I" (अम्ब्रिया) और यूगांडा के पवित्र शहीदों की रोमन पल्ली को सौंपी है।

विभिन्न मुकामों में आने वाली छवियां "मातेर डिवाइन अमोरिस" फामिली हाउस और "तेत्तो कासाल फत्तोरिया" फामिली हाउस के बच्चों और युवाओं द्वारा भी बनाई जाएंगी।

सरल लेकिन गंभीर चिंतन

मंगलवार को वाटिकन प्रेस कार्यालय के एक बयान में कहा गया है कि 3 से 19 वर्ष की आयु के बच्चों और किशोरों द्वारा क्रूस मार्ग की यात्रा के लिए मनन चिंतन और चित्र तैयार किए जाएंगे।

प्रेस कार्यालय ने कहा कि चिंतन "सरल और तत्काल" हैं, लेकिन "भेदभाव और अपमान के अर्थ के साथ-साथ न्याय और एकजुटता के बारे में पूरी तरह से अवगत हैं।"

बयान में कहा गया है, "चिंतन और रंग छोटे और बड़े क्रूस से बनी दुनिया की जटिलता को दर्शाते हैं, लेकिन भविष्य के लिए विश्वास और आशा भी रखते हैं।" बयान में कहा गया है, "वे बच्चे जो अपने माता-पिता को लड़ते हुए देखते हैं, वे बच्चे जो कठिनाई में पड़े अपने दोस्तों की रक्षा करने में असमर्थ हैं, वे युवा जो स्कूल की परीक्षणों में असफल होते हैं, वे लोग जो कोविद -19 महामारी के इन कठिन समय में अकेलेपन का अनुभव करते हैं, और वे जो दूसरों के बीच अजनबी लोगों में येसु का चेहरा देखने में सक्षम हैं।"

युवा लेखक

अगाशी स्काउट समूह "फोलिनो I" 21 प्रशिक्षकों और 145 लड़कों और लड़कियों से बना है जो 8 - 19 साल के बीच है। अपने नेताओं की सहायता से, उन्होंने चौदह स्टेशनों पर प्रतिबिंबित किया और उन्हें अपने दैनिक अनुभवों से संबंधित किया। उनके शैक्षिक तरीकों को ध्यान में रखते हुए, "फोलीग्नो I" बच्चों और युवा लोगों के विकास में योगदान करने के लिए खेलने, आउटडोर रहने और अन्य जैसे उपकरण का उपयोग करता है।

यूगांडा के पवित्र शहीदों की रोमन पल्ली रोम के अर्देतिनो क्षेत्र में स्थित है। इसके पल्ली पुरोहित फादर लुइजी डी'आरिको, धर्मप्रांत में विकलांग लोगों के लिए प्रेरितिक देखभाल के प्रभारी हैं। पल्ली के पास दुर्व्यवहार के शिकार महिलाओं और बच्चों के लिए "कासा बेथलेहेम" और "रिफ्यूजियो पेर आगार" गृह है, जो रोम धर्मप्रांत के आठ पल्लियों के सहयोग से बेघर परिवारों को समायोजित करने का कार्य करता है।

24 March 2021, 15:36