खोज

Vatican News
नाइजर में आतंकवादी हमला नाइजर में आतंकवादी हमला  (ANSA)

नाइजर में आतंकी पीड़ितों के लिए संत पापा ने की प्रार्थना

संत पापा फ्राँसिस नाइजर में आतंकवादी हमलों के पीड़ितों के लिए दुख व्यक्त करते हैं और कहते हैं कि जनसंख्या लोकतंत्र में भरोसा करना जारी रखेगी।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, बुधवार 24 अप्रैल 2021 (रेई) : संत पापा फ्राँसिस ने बुधवारीय आमदर्शन के दौरान  पश्चिमी अफ्रीकी देश नाइजर में आतंकवादी हमलों की एक खबर के बाद अपना दुख और चिंता व्यक्त की। संत पापा ने कहा कि वे हाल ही में नाइजर में हुए आतंकी हमलों की खबर सुनकर दुखी हैं इस हमले में करीब 137 लोग मारे गये। संत पापा ने सभी को उनके लिए प्रार्थना करने हेतु आमंत्रित करते हुए कहा, ʺआइए, हम पीड़ितों के लिए, उनके परिवारों के लिए और पूरी आबादी के लिए प्रार्थना करें, ताकि जो हिंसा हुई है उसके कारण देश के लोग लोकतंत्र, न्याय और शांति के मार्ग में विश्वास न खोयें।

इस बीच राष्ट्र दक्षिण-पश्चिम के गांवों के 137 पीड़ितों के लिए तीन दिनों का राष्ट्रीय शोक मना रहा है।

हालिया स्मृति में सबसे खराब नरसंहार

रविवार को हुई हत्याएं नाइजर के सबसे बुरे नरसंहार का प्रतिनिधित्व करती हैं, जिसमें जनवरी में संदिग्ध आतंकवादियों द्वारा किए गए एक हमले को पार करते हुए कम से कम 100 ग्रामीणों की हत्या और पिछले सप्ताह कम से कम 58 मारे गए थे।

एक सुरक्षा सूत्र ने रविवार के हमलों के लिए स्थानीय इस्लामिक स्टेट को दोषी ठहराया। माली की सीमा के पास सुदूर तहौआ क्षेत्र में मोटरसाइकिल पर सवार आतंकियों ने हत्या को अजाम दिया। इस्लामिक स्टेट ने पूर्व फ्रांसीसी उपनिवेश में सुरक्षा बलों और फ्रांसीसी सहायता श्रमिकों के खिलाफ पिछले छापे की जिम्मेदारी का दावा किया है।

जातीय संघर्ष में घुसपैठ आतंकवादी

विश्लेषकों का कहना है कि बढ़ती हिंसा प्रतिद्वंद्वी उग्रवाद और चरवाहे समुदायों के बीच इस्लामी संघर्षों में घुसपैठ करने वाले इस्लामी आतंकवादियों का परिणाम हो सकती है।

उग्रवादियों ने बड़े पैमाने पर फुलानी चरवाहा समुदाय से निकाले गए, किसानों द्वारा गठित आत्मरक्षा मिलिशिया द्वारा फुलानी की हत्याओं के जवाबी कार्रवाई में नागरिकों को निशाना बनाया।

कमजोर सुरक्षा स्थिति नाइजर के चुने गये नये राष्ट्रपति मोहम्मद बज़ूम, के लिए सर्वोच्च प्राथमिकता होगी, जो महामदौ इस्सौफू के उत्तराधिकारी के रूप में अगले सप्ताह पदभार संभालने वाले हैं।

24 March 2021, 15:22