खोज

Vatican News
फादर लुइस मारिन डी सैन मार्टिन और सिस्टर नथाली बेक्वार्ट फादर लुइस मारिन डी सैन मार्टिन और सिस्टर नथाली बेक्वार्ट 

संत पापा द्वारा धर्माध्यक्षीय धर्मसभा हेतु उपसचिवों की नियुक्ति

संत पापा फ्राँसिस ने धर्माध्यक्षों के धर्मसभा के महासचिव के लिए दो नए उप सचिव को नियुक्त किया : फादर लुइस मारिन डी सैन मार्टिन और सिस्टर नथाली बेक्वार्ट

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, शनिवार 6 फरवरी 2021 (वाटिकन न्यूज) : संत पापा फ्राँसिस ने शनिवार 6 फरवरी को धर्माध्यक्षों के धर्मसभा के महासचिव के लिए दो नए उप सचिव फादर लुइस मारिन डी सैन मार्टिन और सिस्टर नथाली बेक्वार्ट को नियुक्त किया।

सिस्टर नताली बेक्वार्ट की नियुक्ति विशेष रूप से दिलचस्प है क्योंकि यह पहली बार है जब किसी महिला को इस पद पर नियुक्त किया गया है।

सिस्टर नथाली बेक्वार्ट

सिस्टर नथाली बेक्क्वार्ट का जन्म 1969 में फॉनटेनब्लियू, फ्रांस में हुआ था। उन्होंने एचईसी स्कूल ऑफ मैनेजमेंट से मैनेजमेंट में स्नातक और मास्टर किया तथा 1992 में जौय-एन-जोस में उद्यमिता में विशेषज्ञता हासिल की। पेरिस के सोरबोन विश्वविद्यालय में दर्शन शास्त्र का अध्ययन किया। 1992-1993 के बीच उसने लेबनान में बेरुत के एक काथलिक हाई स्कूल में गणित और फ्रेंच के प्रोफेसर के रूप में काम किया और संत जोसेफ जेसुइट यूनिवर्सिटी ऑफ बेरुत में दर्शनशास्त्र और धर्मशास्त्र को कोर्स भी दिया।

नथाली अगस्त 1995 में क्राइस्ट-जीसस के मिशनरियों के धर्मसमाज में प्रवेश किया। और 2005 में अंतिम मन्नत लिया। उन्होंने फ्रांस में इग्नासियुस युवा नेटवर्क के लिए आध्यात्मिक निदेशक सहित विभिन्न भूमिकाओं में काम किया है।

वे फ्रेंच धर्माध्यक्षीय सम्मेलन में (2012- अगस्त 2018 तक, 6 साल की अवधि के लिए) युवाओं के विकास और बुलाहट के लिए राष्ट्रीय सेवा (एसएनईजेवी)  के निदेशक, फ्रांस के नानट्रे धर्मप्रांत के धर्माध्यक्षीय परिषद के सदस्य, यूरोपीय वोकेशन सर्विस (सीसीइइ) के उपाध्यक्ष और 2016-2018 के बीच वे वाटिकन में युवाओं पर धर्मसभा के लिए बनी प्रारंभिक टीम का हिस्सा थी। अक्टूबर 2018 में, "युवा, विश्वास और व्यावसायिक विवेक" पर धर्माध्यक्षों के धर्मसभा में लेखा परीक्षक थी। तब से आज तक सिस्टर नताली  संयुक्त राज्य अमेरिका में  (काथलिक थियोलॉजिकल यूनियन) शिकागो, में वाटिकन सबाटिकल कार्यक्रमों में भाग ले रही हैं।

फादर लुइस मारिन डी सैन मार्टिन

लुइस मारिन डे सैन मार्टिन का जन्म 21 अगस्त, 1961 को मैड्रिड, स्पेन में हुआ था। उन्होंने 5 अगस्त, 1982 को संत ऑगस्टीन धर्मसंघ में अस्थायी मन्नत लिया और 1 नवंबर, 1985 को आजीवन प्रतिज्ञा की। 1982 से 1988 तक उन्होंने दर्शनशास्त्र का अध्ययन किया और सेमीइनारियो मेयर टैगस्ट (लॉस नेग्रेल्स, मैड्रिड) में धर्मशास्त्र की पढ़ाई पूरी की। 4 जून 1988 को उनका पुरोहिताभिषेक हुआ। वे स्पेन में संत जुआन डे सहगुन अगुस्टीन प्रोविंस के सदस्य हैं।

उन्होंने (1990) में पोंटिफ़िकल कोमिलस विश्वविद्यालय, मैड्रिड से आध्यात्मिक ईशशास्त्र में मास्टर की डिग्री प्राप्त किया (1998) में पोंटिफ़िकल ग्रेगोरियन विश्वविद्यालय से सिद्धांतवादी ईशशास्त्र में मास्टर की डिग्री प्राप्त किया और 1998 में पोंटिफ़िकल कोमिलस विश्वविद्यालय से धर्मशास्त्र में डॉक्टरेट की उपाधि प्राप्त की। उन्होंने 2011 में वाटिकन अभिलेखीय अध्ययन में डिप्लोमा भी प्राप्त किया।

उन्होंने अपने धर्मसमाज के समुदाय में सुपीरियर और प्रशिक्षक के रुप में कई वर्षों काम किया। वे संत सेबास्टिन डे लॉस, मोन्तेजो डे ला सिएरा, सांता अन्ना, ले स्पेरान्जा मडरिड आदि पल्लियों के पल्ली पुरोहित थे। 2009 से 2013 तक वे अगस्टिनियन हिस्टोरिकल इंस्टीट्यूट के सचिव थे। 2004 से वे नोर्टे डी एस्पाना (बर्गोस) के धर्मशास्त्र संकाय में आमंत्रित प्रोफेसर के रूप में पढ़ा रहे हैं। उन्होंने कई आध्यात्मिक साधना का निर्देशन किया है। उन्होंने 2008 से संत अगुस्टीन धर्मसंघ के महा अभिलेखाध्यक्ष और धर्मसंघ के फादर जनरल के सहायक हैं और 2013 से ऑगस्टिनियन स्पिरिचुअलिटी इंस्टीट्यूट के अध्यक्ष के भी हैं।

06 February 2021, 14:50