खोज

Vatican News
संत पापा फ्राँसिस और इटली, जेनोआ के साम्पोरिया फुटबॉल टीम संत पापा फ्राँसिस और इटली, जेनोआ के साम्पोरिया फुटबॉल टीम   (ANSA)

खेल "जीवन, परिपक्वता और पवित्रता का मार्ग", संत पापा

संत पापा फ्राँसिस ने इटली, जेनोआ के साम्पोरिया फुटबॉल टीम के अध्यक्ष, कोच और खिलाड़ियों से मुलाकात की।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, शनिवार 20 फरवरी 2021 (वाटिकन न्यूज) : संत पापा फ्राँसिस ने ने शुक्रवार को वाटिकन में 1946 में उत्तरी इतालवी शहर जेनोआ में स्थापित साम्पोरिया फुटबॉल टीम से मुलाकात उन्हें शुभकामनाएं दीं। संत पापा ने कहा कि सामान्य रूप से खेल और विशेष रूप से फुटबॉल, "जीवन, परिपक्वता और पवित्रता का मार्ग" हो सकता है । उन्होंने याद किया कि "आप अपने दम पर कभी नहीं, लेकिन "हमेशा एक टीम के रूप में आगे बढ़ सकते हैं।"

संत पापा ने खेल के संबंध में दो प्रमुख विशेषताओं की चर्चा की।

उन्होंने कहा, पहला यह है कि सब कुछ एक टीम के रूप में किया जाता है। "सर्वश्रेष्ठ जीत वे हैं जो एक टीम के रूप में आती हैं।" उन्होंने कहा कि एक फुटबॉल खिलाड़ी जो केवल "खुद को ध्यान में रखते हुए खेल खेलता है, अन्य खिलाड़ियों की परवाह किए बिना गेंद से चिपका रहता है। इसके बजाय, "हमें हमेशा एक टीम के रूप में काम करना चाहिए।"

संत पापा ने कहा, ʺदूसरा बिंदु यह है कि उन्हें खेल के प्रति शौक,जुनून को कम होने नहीं देना चाहिए। खेल एक ऐसी गतिविधि है जिसमें शामिल होना और चीजों को करना चाहत से आता है। यह महत्वपूर्ण है कि आप हमेशा शौक से खेल का प्रदर्शन करें।ʺ

साम्पोरिया के अध्यक्ष, मासिमो फेर्रेरो और लिगुरियन टीम के कोच क्लाउडियो रानियरी ने संत पापा को वाटिकन में उनका स्वागत करने के लिए धन्यवाद दिया। टीम ने संत पापा को बैठक के स्मारक पेन के साथ "पापा फ्रांसेस्को" लिखी हुई एक साम्पोरिया जर्सी दी।

20 February 2021, 11:01