खोज

Vatican News
कोविड-19 से पीड़ित लोगों के रिश्तेदार ऑक्सिजन सिलेंडर लेने से लिए लाईन लगाये हुए कोविड-19 से पीड़ित लोगों के रिश्तेदार ऑक्सिजन सिलेंडर लेने से लिए लाईन लगाये हुए  (AFP or licensors)

संत पापा ने अमाजोन में कोविड-19 से पीड़ित लोगों के लिए प्रार्थना की

संत पापा फ्रांसिस ने ब्राजील के मनाऊस शहर एवं अमाजोन वर्षावन क्षेत्र के निवासियों के लिए प्रार्थना की, जो कोरोना वायरस महामारी से बहुत अधिक प्रभावित हैं।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, बृहस्पतिवार, 21 जनवरी 21 (रेई)- संत पापा ने बुधवार को आमदर्शन समारोह के दौरान कहा, "इन दिनों मेरी प्रार्थना उन लोगों के लिए है जो महामारी के कारण पीड़ित हैं खासकर, उत्तरी ब्राजील के मनाऊस शहर में।"

पुर्तगाली भाषी विश्वासियों को सम्बोधित करते हुए संत पापा ने अमाजोन की स्थिति पर चिंता व्यक्त की तथा प्रभु से प्रार्थना की कि इस कठिन समय में वे उन्हें संभालें। उन्होंने कहा, "मैं आपको अपनी हार्दिक आशीर्वाद भेजता हूँ।"

कमजोर आदिवासी जनजातियों के लिए भय

अस्पतालों में भीड़ और ऑक्सिजन आपूर्ति में कमी होने के साथ अधिकारी एवं ब्राजील के मनाऊस शहर के लोगों के लिए डर हैं कि कोविड-19 की दूसरी लहर के कारण मौतें अधिक हो सकती हैं।

मनाऊस एवं निकटवर्ती क्षेत्र में आदिवासी समन्वय दल (कोपिमे) के प्रमुख ने चेतावनी दी है कि मनाऊस में रहने एवं सार्वजनिक स्वास्थ्य देखभाल पर निर्भर रहनेवाले करीब 30,000 आदिवासियों के लिए स्थिति खास रूप से चिंताजनक है।

ब्राजील की वायु सेना ने पिछले हफ्ते वर्षावन के शहर में ऑक्सीजन सिलेंडरों को उतारा, जब हताश रिश्तेदारों ने यह कहते हुए कथित रूप से अस्पतालों के बाहर विरोध किया कि मरीजों को वेंटिलेटर से हटा दिया गया है क्योंकि ऑक्सीजन की आपूर्ति समाप्त हो गई है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, कुछ बीमार लोगों को दूसरे राज्यों में ले जाया गया, क्योंकि स्थानीय लोगों ने अपने प्रियजनों की मदद हेतु काले बाजार में ऑक्सीजन खरीदने के लिए हाथापाई की किन्तु कोपिमे के अध्यक्ष ने कहा "अगर अपने बुजुर्गों के जीवित रहने के लिए हमें ऑक्सीजन खरीदना पड़े, तो वे मर जाएंगे। हमारी कोई आय नहीं है।"

जॉन्स हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी की रिपोर्ट अनुसार ब्राजील में कोविड-19 से कुल 2,10,000 मौतें हुई हैं जो अमरीका के बाद दूसरे नम्बर पर है। आदिवासी संगठन एपीआईबी के अनुसार, मृतकों में 926 आदिवासी लोग शामिल हैं।

21 January 2021, 14:35