खोज

Vatican News
संत पापा सिस्टिन चैपल में बपतिस्मा देते हुए संत पापा सिस्टिन चैपल में बपतिस्मा देते हुए  (Vatican Media)

संत पापा ने सिस्टिन चैपल में बपतिस्मा को स्थगित कर दिया

संत पापा फ्राँसिस ने कोविद-19 महामारी के कारण इस वर्ष वाटिकन के सिस्टिन चैपल में होने वाले बच्चों के पारंपरिक बपतिस्मा को स्थगित कर दिया है।

माग्रेट सुनिता मिंज-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी,बुधवार 6 जनवरी 2021(वाटिकन न्यूज) : वाटिकन प्रेस कार्यालय ने मंगलवार को एक बयान जारी कर कहा कि संत पापा फ्राँसिस कोविद -19 महामारी के कारण 10 जनवरी, रविवार को वाटिकन के प्रसिद्ध सिस्टिन चैपल में बच्चों के पारंपरिक बपतिस्मा संस्कार की अध्यक्षता नहीं करेंगे।

वाटिकन प्रेस कार्यालय ने कहा, "स्वास्थ्य की स्थिति के कारण, एहतियाती उपाय के रूप में, इस वर्ष प्रभु के बपतिस्मा रविवार10 जनवरी को सिस्टिन चैपल में संत पापा की अध्यक्षता में बच्चों का पारंपरिक बपतिस्मा नहीं होगा, इसके बजाय, बपतिस्मा उन पल्लियों में होगा, जहाँ बच्चों के परिवार हैं।

वाटिकन का सिस्टिन चैपल, जहां परमाध्यक्ष चुने जाते हैं, में माइकेलअंजेलो फ्रेस्कोस की भव्यता के बीच बच्चों को बपतिस्मा देने की परंपरा संत पापा जॉन पॉल द्वितीय द्वारा शुरू की गई थी। वाटिकन की वेबसाइट का कहना है कि 11 जनवरी 1981 को प्रभु के बपतिस्मा के महोत्सव के दिन, संत पापा जॉन पॉल द्वितीय  ने वाटिकन के पौलिन चैपल में 9 शिशुओं को बपतिस्मा दिया, जो कि साला रेजिया द्वारा सिस्टिन चैपल से अलग किया गया है। अगले वर्ष उन्होंने 13 शिशुओं को बपतिस्मा दिया, उसके बाद 1983 में 20 शिशुओं को बपतिस्मा दिया।

पिछले साल,संत पापा फ्राँसिस ने वाटिकन कर्मचारियों के 32 शिशुओं (17 लड़कों और 15 लड़कियों) को बपतिस्मा दिया।

कलीसिया के धर्मविधि पंचाग में, येसु का बपतिस्मा समारोह, क्रिसमस के मौसम के समापन का प्रतीक है, जो क्रिसमस की पूर्व संध्या मास के साथ शुरू होता है।

यूरोप सहित दुनिया भर के कई देश कोरोनोवायरस संक्रमण की एक दूसरी लहर के साथ जूझ रहे हैं, सरकारें इसके प्रसार को रोकने के लिए गंभीर रूप से सभा सम्मेलनों और लोगों के एक साथ आने के लिए प्रतिबंध लगा रही हैं, खासकर मौजूदा छुट्टियों के मौसम के दौरान। यूरोपीय देशों में सबसे अधिक मौत इटली में हुई है। नए कोरोनावायरस रोग से 75,000 से अधिक लोग मारे गए हैं। महामारी की शुरुआत के बाद से 2.1 मिलियन से अधिक संक्रमण के साथ, इटली रूस, ब्रिटेन और फ्रांस के बाद 4 वें स्थान पर है।

06 January 2021, 14:35