खोज

Vatican News
मध्य अफ्रीका, चुनाव पर विरोध प्रदर्शन मध्य अफ्रीका, चुनाव पर विरोध प्रदर्शन  (ANSA)

मध्य अफ्रीका में शांति के लिए संत पापा की अपील

प्रभु प्रकाश महापर्व के अवसर पर 6 जनवरी को संत पापा फ्राँसिस ने देवदूत प्रार्थना के उपरांत मध्य अफ्रीका की याद की जहाँ चुनाव के बाद नागरिकों के बीच संघर्ष हुए हैं।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, बृहस्पतिवार, 7 जनवरी 21 (रेई)- बुधवार को देवदूत प्रार्थना के उपरांत संत पापा ने मध्य अफ्रीका की याद की तथा कहा कि वे देश में हो रही घटनाओं को ध्यान और चिंता से देख रहे हैं।

मध्य अफ्रीका में हाल ही में चुनाव हुए हैं। संत पापा ने गौर किया कि "लोगों ने अपनी इच्छा व्यक्त की है कि वे शांति की राह पर आगे बढ़ना चाहते हैं।" उन्होंने सभी दलों को भाईचारा एवं सम्मानपूर्ण वार्ता, घृणा के बहिष्कार और हर प्रकार की हिंसा को रोकने का निमंत्रण दिया।

हीरे और यूरेनियम जैसे प्राकृतिक संसाधनों का धनी देश होते हुए भी महाद्वीप में मध्य अफ्रीका सबसे गरीब एवं अस्थिर देशों में से एक है। यूएन के अनुसार देश की आधी आबादी मानवीय सहायता पर निर्भर है एवं हर पाँचवाँ व्यक्ति विस्थापित है।

चुनाव में हिंसा

मध्य अफ्रीका के राष्ट्रपति फौस्तिन अर्चेनज तौवादेरा 27 दिसम्बर को दोबारा चुने गये किन्तु विपक्षी उम्मीदवारों ने दावा किया है कि चुनाव में धांधली हुई है।

दिसम्बर के शुरू से ही, देश की स्थिति अत्यधिक तनावपूर्ण हो गई है। सशस्त्र समूहों का गठबंधन, परिवर्तन के लिए देशभक्तों का गठबंधन (सीपीसी), पूर्व राष्ट्रपति फ्रांस्वा बोज़ी को उम्मीदवारों के बीच से बाहर करने के संवैधानिक न्यायालय के फैसले के बाद हमले तेज कर दिए हैं।

उन्हें विद्रोहियों एवं वर्तमान के विपक्षी पार्टी का समर्थन मिल रहा है। मध्य अफीकी सरकार तथा यूएन ने चुनाव स्थगित करने के विद्रोहियों के आग्रह को ठुकरा दिया है।

राष्ट्रपति तौवादेरा ने कथित तौर पर राष्ट्रीय क्षेत्र पर नियंत्रण बनाए रखने की कोशिश करने के लिए विदेशों से मदद लेना स्वीकार किया।

07 January 2021, 14:24