खोज

Vatican News
किसान किसान  (AFP or licensors)

किसानों को संत पापा का संदेश

संत पापा फ्राँसिस ने इटली के सबसे बड़े किसान संगठन "कोल्दीरेत्ती" को संदेश भेजा तथा जोर दिया कि कोरोना वायरस महामारी से उत्पन्न संकट का वैश्विक जवाब सेवा की संस्कृति पर आधारित हो।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, मंगलवार, 15 दिसम्बर 2020 (रेई)- कोल्दीरेत्ती राष्ट्रीय सभा का मुख्य मुद्दा है अर्थव्यवस्था को फिर से शुरू करने की जरूरत है जिसके साथ सामाजिक विकास एवं जीवन शक्ति है, जिसपर ऑनलाइन सभा आयोजित किया गया है। सभा की विषयवस्तु है, "भोजन के नायकों से इटली पुनः शुरू करे।"

कोल्दीरेत्ती इटली का सबसे बड़ा किसान संगठन है जिसमें 1.6 मिलियन सदस्य हैं। यह राष्ट्रीय और यूरोपीय स्तर पर कृषि उद्यमियों का प्रतिनिधित्व करता है तथा किसानों के अधिकारों की रक्षा करता, बड़े और छोटे; इताली कृषि उपज की गुणवत्ता की गारंटी; स्थिरता तथा खाद्य सुरक्षा को बढ़ावा देता है।

वाटिकन राज्य सचिव कार्डिनल पीयेत्रो परोलिन द्वारा प्रेषित संदेश में संत पापा फ्राँसिस ने टिप्पणी की है कि कैसे समाज के सभी क्षेत्रों में महामारी के कारण होनेवाली कठिनाइयों को पीछे छोड़ने के तरीकों की तलाश करना है।

कोल्दिरेत्ती द्वारा किए गए एक सर्वेक्षण से पता चलता है कि कोविद द्वारा उत्पन्न संकट पिछले साल की तुलना में खर्चों में 31% की कमी के साथ इटली के क्रिसमस मेनू को 1/3 से कम कर देगा, जो 10 सालों में 2020 क्रिसमस पर सबसे कम खर्च वाला वर्ष बन जायगा।

संत पापा ने संदेश में कहा है कि जो सबसे महत्वपूर्ण है वह है कि इस सुधार को कैसे पुनः प्राप्त किया जा सकता है। इसके लिए उन्होंने मानव, प्रकृति एवं सृष्टिकर्ता के बीच संबंध को संतुलित करने की सलाह दुहरायी।  

सही तर्क

कृषि एवं कृषि-खाद्य जगत की मुख्य भूमिका पर प्रकाश डालते हुए संत पापा ने प्रतिनिधियों से अपील की कि वे अपना योगदान लाभ प्राप्ति के तर्क पर नहीं बल्कि सेवा पर दें, शोषण पर नहीं बल्कि देखभाल एवं प्रकृति पर ध्यान देकर दें अर्थात् यह सभी के स्वागत का घर बने।

एकात्मता का नया रास्ता

संत पापा ने अपने संदेश के अंत में सदस्यों से अपील की कि वे हमेशा उदारता एवं एकात्मता के नये रास्तों को अपनाने का साहस करें ताकि लोगों के बीच गरीबी और असमानता की समस्याओं का सही वैश्विक जवाब दिया जा सके, खासकर, विश्व इतिहास के इस समय में।  

 

15 December 2020, 18:52