खोज

Vatican News
संत पापा फ्राँसिस  के साथ हाथ मिलाते हुए प्रोफेसर जुसेप्पे दल्ला तोर्रे संत पापा फ्राँसिस के साथ हाथ मिलाते हुए प्रोफेसर जुसेप्पे दल्ला तोर्रे   (@VaticanMedia)

संत पापा ने जुसेप्पे दल्ला तोर्रे की मृत्यु पर संवेदना व्यक्त की

संत पापा फ्राँसिस ने प्रोफेसर जुसेप्पे दल्ला तोर्रे के निधन पर शोक व्यक्त किया, जिन्होंने 20 वर्षों तक वाटिकन सिटी स्टेट के ट्रिब्यूनल के अध्यक्ष के रूप में कार्य किया।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, शनिवार 5 दिसम्बर 2020 (वाटिकन न्यूज) : इटली के एक न्यायविद प्रोफेसर जुसेप्पे दल्ला तोर्रे जिनके परिवार ने तीन पीढ़ियों से परमाध्यक्षों की सेवा की है, का गुरुवार को 77 वर्ष की आयु में निधन हो गया।

उनकी मृत्यु कोविद -19 से जुड़ी जटिलताओं के परिणामस्वरूप हुई।

वाटिकन राज्य सचिव कार्डिनल पिएत्रो पेरोलिन द्वारा हस्ताक्षरित टेलीग्राम में, संत पापा फ्राँसिस ने दिवंगत प्रोफेसर के परिवार के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त की और कलीसिया के प्रति उनके समर्पण की प्रशंसा की।

संत पापा ने वाटिकन की सेवा में उनकी विभिन्न भूमिकाओं में एक पक्के ख्रीस्तीय के रुप में उनकी गवाही और पूर्ण समर्पण" को याद किया।

संत पापा फ्राँसिस ने प्रोफेसर जुसेप्पे दल्ला तोर्रे की आत्मा अनंत शांति के लिए अपनी प्रार्थना का आश्वासन दिया और उनके परिवार के सदस्यों को अपना प्रेरितिक आशीर्वाद दिया।

कार्डिनल पारोलिन ने शनिवार को 10 बजे संत पेत्रुस महागिरजाघऱ में सेंट पीटर्स बेसिलिका में प्रोफेसर जुसेप्पे दल्ला तोर्रे के लिए अंतिम संस्कार पवित्र मिस्सा का अनुष्ठान किया।

प्रोफेसर जुसेप्पे ने 1997 से 2019 तक वाटिकन सिटी राज्य के ट्रिब्यूनल के अध्यक्ष के रूप में कार्य किया।

वे 1991 से 2014 तक रोम के लुमसा विश्वविद्यालय के रेक्टर भी थे।

05 December 2020, 14:09