खोज

Vatican News
संत पापा फ्राँसिस संत पापा फ्राँसिस  (ANSA)

संत पापा का 2020:महामारी के समय प्रार्थना की शक्ति

2020 में कोविद -19 की वजह से वैश्विक स्वास्थ्य आपातकाल ने संत पापा फ्राँसिस को अंतर्राष्ट्रीय प्रेरितिक यात्रा करने से रोक दिया, लेकिन इस कठिन वर्ष के दौरान संत पापा ने हमेशा अपने को विश्वासियों के करीब रखा है, भय के क्षणों में उनका समर्थन किया, भटकाव और पीड़ा समय वे उनके साथ उपस्थित रहे। प्रार्थना की शक्ति के लिए धन्यवाद।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, बुधवार 30 दिसम्बर, 2020 (वाटिकन न्यूज) : रविवार, 8 मार्च 2020, को एक प्रतीकात्मक रेखा के रूप में देखा जा सकता है जो कई मामलों में एक अद्वितीय वर्ष के 'पहले' और 'बाद' को अलग करती है।

यह वह तारीख है, जब पहली बार संत पापा फ्राँसिस की देवदूत प्रार्थना को प्रेरितिक भवन की लाइब्रेरी से लाइव स्ट्रीम किया गया था। कोविद -19 महामारी द्वारा लगाया गया लॉकडाउन का समय था।

संत पापा ने कहा, "आज की देवदूत प्रार्थना थोड़ी असमान्य सी है। आज संत पापा लाइब्रेरी में बंद हैं, लेकिन मैं आपको देखता हूँ, मैं आपके करीब हूँ।" इसके बाद खाली संत पेत्रुस प्रांगण को आशीर्वाद देने के लिए खिड़की से बाहर देखने के साथ उस कार्यक्रम का समापन हुआ।

हम में से किसी ने भी आने वाले महीनों की कल्पना नहीं की थी कि संत पेत्रुस प्रांगण खाली और शांत हो जाएगा जैसा पहले कभी नहीं था। केवल संत पापा फ्राँसिस की प्रार्थनाओं और दुनिया के लिए आशाओं से भरा हुआ है।

 संत पेत्रुस प्रांगण 27 मार्च की शाम को महामारी के समय "प्रार्थना के असाधारण समय" की शुरुआत की। संत पापा फ्राँसिस ने चालिसा के शुक्रवार को संत पेत्रुस प्रांगण में अकेले भारी बारिश में मानवता को नहीं डरने और खुद को प्रभु के हाथों में सौंपने के लिए कहा : "हमें एक उम्मीद है: उसके क्रूस से हम चंगे हो गए हैं और उसने हमें गले लगा लिया है ताकि कुछ भी और कोई भी, हमें उनके प्यार से अलग न कर सके।"

प्रार्थना और उपचार

"प्रार्थना" और "स्वास्थ्य आपातकाल" ये दो विषय  2020 के आम दर्शन समारोह के विषय वस्तु थे। संत पापा ने 6 मई और 7 अक्टूबर के बीच एक पूरे चक्र को प्रार्थना में समर्पित किया और फिर, उन्होंने 19 अगस्त को टीके के लिए सार्वभौमिक पहुंच के महत्व पर विशेष ध्यान देते हुए "विश्व को चंगा करना" विषय पर चिंतन किया। जनवरी से अप्रैल के अंत तक, धर्मशिक्षा का एक तीसरा चक्र पर्वत प्रवचन को समर्पित था। कुल मिलाकर, पूरे वर्ष में संत पापा फ्राँसिस ने 46 आम दर्शन समारोह का आयोजन किया और उन्होंने 58 बार देवदूत प्रार्थना और स्वर्ग की रानी प्रार्थना का पाठ किया। प्रार्थना के बाद उन्होंने कई बार विश्व शांति के लिए लोगों से प्रार्थना की अपील की। उदाहरण के लिए, 19 जुलाई को उन्होंने कहा, "मैं एक वैश्विक और तत्काल युद्ध विराम की अपील को नवीनीकृत करता हूँ जो आवश्यक मानवीय सहायता प्रदान करने के लिए शांति और सुरक्षा को अपरिहार्य बनाने की अनुमति देगा।"

9 मार्च से 18 मई के बीच, जब इटली में संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए गिरजाघरों को ख्रीस्तियों के लिए बंद कर दिया गया था, तब संत पापा ने सुबह पवित्र मिस्सा समारोह की लाइव स्ट्रीमिंग को अधिकृत किया, जो हर दिन सुबह 7 बजे कासा सांता मर्था में आयोजित किया जाता था। इस तरह का आखिरी प्रसारण संत पेत्रुस महागिरजाघर में 18 मई की सुबह संत पापा जॉन पॉल द्वितीय के जन्म की 100वीं वर्षगांठ पर आयोजित किया गया था।

फ्रातेल्ली तुत्ती और क्वेरिडा अमाज़ोनिया  ​

2020 संत पापा फ्राँसिस के तीसरे विश्वपत्र का भी वर्ष है: 4 अक्टूबर को "फ्रातेल्ली तुत्ती" प्रकाशित हुआ था। इसमें संत पापा एक बेहतर दुनिया के निर्माण के प्राथमिक तरीकों के रूप में बंधुत्व और सामाजिक मित्रता को इंगित करते हैं। 12 फरवरी को उन्होंने अक्टूबर 2019 में आयोजित पान-अमेजन क्षेत्र के लिए विशेष धर्मसभा के परिणामस्वरूप प्रेरितिक उद्बोधन "क्वेरिडा अमाज़ोनिया" जारी किया। यह दस्तावेज संत पापा फ्राँसिस के अमेजन चेहरे के साथ कलीसिया की इच्छा का प्रतिनिधित्व करता है और प्रचार के नए रास्तों की खोज करता है और पर्यावरण की देखभाल करता है। इस वर्ष 18 जून को संत पापा फ्राँसिस का दूसरा विश्वपत्र, "लौदातो सी" की पांचवीं वर्षगांठ मनाई गई। इसके बाद 24 मई को "लौदातो सी वर्ष" लॉन्च किया गया। 12 दिसंबर को संत पापा फ्राँसिस ने एक "उच्च स्तरीय आभासी पर्यावरण महत्वाकांक्षा शिखर सम्मेलन" में प्रतिभागियों को एक वीडियो संदेश दिया और वाटिकन राज्य में 2050 तक कार्बन उत्सर्जन को शून्य तक कम करने की प्रतिबद्धता को दोहराया।

मैककारिक रिपोर्ट

इसके अलावा नवंबर में संस्थागत ज्ञान और निर्णय-पूर्व कार्डिनल थेओदोर एडगर मैककारिक से संबंधित निर्णय मंगलवार 10 नवम्बर को प्रकाशित किया गया था। पूर्व कार्डिनल, 2019 में बाल यौन शोषण के दोषी पाए जाने के बाद याजकीय पद से खारिज कर दिया गया। 11 नवंबर को आम दर्शन समारोह के दौरान संत पापा फ्राँसिस ने इस बारे में बात की: "कल, पूर्व कार्डिनल थियोदोर मैककारिक के दुखद मामले पर रिपोर्ट प्रकाशित हुई। मैंने यौन दुर्व्यवहार के पीड़ितों के लिए अपनी निकटता और इस बुराई को मिटाने के लिए कलीसिया की प्रतिबद्धता को नवीनीकृत करता हूँ।"

पेट्रीस कॉर्डे

2020 के प्रेरितिक पत्रों में 8 दिसंबर को जारी "पैट्रीस कॉर्डे,"(पिता का हृदय) धन्य पापा पियुस नवें द्वारा संत जोसेफ को काथलिक कलीसिया का संरक्षक संत घोषित करने के ठीक 150 साल बाद आया और इस दिन से "संत जोसेफ का वर्ष" घोषित किया गया, जिसका समापन 8 दिसंबर 2021 को होगा। 7 दिसंबर को देवदूत प्रार्थना के दौरान संत पापा फ्राँसिस ने घोषणा की कि "अमोरिस लेतिसिया परिवार" वर्ष का उद्घाटन 19 मार्च 2021 को होगा और 26 जून 2022 को रोम में होने वाली परिवारों की 10वीं विश्व बैठक के साथ समाप्त होगा।

नये कार्डिनल

2020 के अंत में 28 नवम्बर को संत पापा फ्राँसिस ने 13 नये कार्डिनलों को चुना और कार्डिनल मंडल में शामिल किया। उन्हें दुनिया की परिधि से अपने नए पदों पर बुलाया, जैसे ब्रुनेई और रवांडा पहली बार कार्डिनल मंडल का हिस्सा बना।

प्रेरितिक यात्रा

इसके अलावा 2020, वह वर्ष था, जिसमें संत पापा विदेश में प्रेरितिक यात्रा करने में असमर्थ थे। 23 फरवरी को वहे "द मेडिटेरेनियन, ए फ्रंटियर ऑफ पीस" (भूमध्य एक शांति का सरहद), नामक चिंतन और आध्यात्मिक बैठक के लिए इटली के बारी शहर गए। यहीं पर उन्होंने युद्ध का वर्णन करते हुए शांति और भाईचारे का आह्वान किया, '' युद्ध एक तरह की मूर्खता जिससे हम खुद को इस्तीफा नहीं दे सकते। युद्ध कभी नहीं।" 3 अक्टूबर को संत पापा फ्राँसिस एक निजी दौरे पर असीसी गये। वहां संत फ्राँसिस की कब्र पर, अगले दिन जारी किये गये विश्वपत्र " फ्रातेल्ली तुत्ती" पर हस्ताक्षर किए।

इराक

संत पापा फ्राँसिस ने 7 दिसंबर को यह घोषणा की कि वे 2021 में 5 से 8 मार्च तक इराक का दौरा करेंगे। यह एक ऐसी यात्रा है, जिसकी वह प्रबल इच्छा रखते हैं,  उन्होंने उदारवादी संगठनों की बैठक में भाग लेने वाले प्रतिभागियों के सामने राष्ट्र का दौरा करने का इरादा व्यक्त किया है, जो जून 2019 से ओरिएंटल कलीसियाओं को सहायता प्रदान कर रहे हैं। इस दिशा में एक और संकेत 25 जनवरी 2020 को आया, जब संत पापा वाटिकन में गणतंत्र इराक के राष्ट्रपति बरहम सलीह से मुलाकात की थी। एक वर्ष जो समाप्त होता है और एक वर्ष जो आशा के एक अग्रदूत के रूप में शुरू होता है।

साल 2020 में संत पापा के साथ प्रमुख घटनाएँ
30 December 2020, 13:36