खोज

Vatican News
बेल्जियम का एक गिरजाघर बेल्जियम का एक गिरजाघर 

बेल्जियम में ख्रीस्त जयन्ती का महोत्सव आशा एवं सहानुभूति के साथ

कोरोना वायरस से पीड़ित लोगों एवं उनके परिवारों के प्रति सहानुभूति एवं आशा के चिन्ह तथा कोविड-19 से संघर्ष करने वालों को प्रोत्साहन देने हेतु बेल्जियम के धर्माध्यक्षों ने देश के सभी पल्लियों में क्रिसमस के दिन दोपहर में चर्च की घंटी बजाने का आदेश दिया है।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

बेल्जियम, मंगलवार, 22 दिसम्बर 20 (वीएनएस)- काथलिक धर्माध्यक्षों के वेबसाईट में प्रकाशित संदेश में कहा गया है कि "क्रिसमस का संदेश महामारी के समय में भी गुँज रहा है। ईश्वर, हम मनुष्यों के करीब हैं। येसु हमारी मानवीय परिस्थिति को साझा करने आ रहे हैं, पवित्र आत्मा हमें भय और असुरक्षा से दूर करता है तथा गरीबों के प्रति एकात्मता के लिए प्रेरित करता है।"

बेल्जियम की सिस्टर लीलिमा टोप्पो ने बतलाया कि 13 दिसम्बर से वहाँ के गिरजाघरों को पवित्र मिस्सा के लिए खोल दिया गया है किन्तु एक मिस्सा में सिर्फ 15 विश्वासी भाग ले सकते हैं। उन्होंने बतालाया कि उनकी पल्ली में क्रिसमस के दिन पवित्र मिस्सा अर्पित नहीं किया जाएगा क्योंकि वहाँ विश्वासियों की संख्या अधिक है और भीड़ होने का खतरा है अतः गिरजाघर सिर्फ दर्शन एवं प्रार्थना के लिए खुले रहेंगे। विश्वासी टेलीविजन और अन्य संचार माध्यमों द्वारा ख्रीस्तयाग में भाग ले सकते हैं।

22 December 2020, 14:40