खोज

Vatican News
संत पापा फ्राँसिस संत पापा फ्राँसिस  (AFP or licensors)

संत पापा द्वारा क्रूस संग्रहालय को पेक्टोरल क्रूस दान

संत पापा फ्राँसिस ने काल्टाजिरोने के अंतर्राष्ट्रीय क्रूस संग्रहालय के लिए एक पेक्टोरल क्रूस दान किया और एक पत्र में विश्वासियों और तीर्थयात्रियों को येसु मसीह को अपने जीवन में अपनाने और उनके मार्ग पर चलने हेतु प्रोत्साहित किया। येसु कहते हैं, मार्ग, सच्चाई और जीवन मैं हूँ।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, शनिवार 07 नवम्बर 2020 (वाटिकन न्यूज) : संत पापा फ्राँसिस ने सिसली के काल्टाजिरोने शहर में अंतर्राष्ट्रीय क्रूस संग्रहालय में एक पेक्टोरल क्रूस दान किया। संग्रहालय को इस साल 14 सितंबर को क्रूस विजय के महोत्सव के लिए खोला गया था।

संत पापा का उपहार काल्टजिरोने, के धर्माध्यक्ष कालोजेरो पेरी द्वारा प्रस्तुत किया गया। प्रथम शुक्रवार को पवित्र मिस्सा के बाद धर्माध्यक्ष पेरी ने संग्रहालय के संस्थापक फादर एनजो मान्गानो को पेक्टोरल क्रॉस सौंपा।

मसीहः मार्ग, सत्य और जीवन

चालिसा के दौरान कोविद -19 महामारी और उसके परिणामों पर चिंतन करते हुए क्रूस की आध्यात्मिकता को बेहतर ढंग से जानने हेतु समर्पित संग्रहालय का विचार  फादर मान्गानो के मन में आया। फ़ादर मान्गानो ने तब मित्रों और कलाकारों से अपील की कि वे कला और अन्य संस्मरणों के कार्यों को दान करें, जो येसु के दुःखभोग पर केंद्रित है।

संत पापा फ्राँसिस ने राज्य सचिवालय द्वारा हस्ताक्षरित एक पत्र के माध्यम से फादर मान्गानो की अपील का जवाब दिया, जिसमें विश्वासियों और तीर्थयात्रियों के येसु मसीह के दुःखभोग के प्राचीन तीर्थालय की यात्रा करने हेतु प्रोत्साहित किया। मसीह को अपने जीवन में अपनाने अपनायें क्योंकि मसीह ही मार्ग सत्य और जीवन हैं।

क्रूस पर चिंतन

काल्टाजिरोने का अंतर्राष्ट्रीय क्रूस संग्रहालय धर्माध्यक्ष पेरी को समर्पित है, जो क्रूस दान देने वाले पहले लोगों में से एक हैं। वे कोरोना वायरस से संक्रमित थे और इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती किये गये। जिस कमरे में उन्हों रखा गया उसके बिस्तर के सामने दिवार पर संत दमियानो का क्रूस था। अपनी बीमारी के दौरान, धर्माध्यक्ष पेरी ने  क्रूस पर चिंतन और प्रार्थना थी। ठीक होने के बाद जब उन्हें छुट्टी दे दी गई, तो धर्माध्यक्ष पेरी ने क्रूस को अपने साथ ले जाने की इजाजत मांगी।  बाद में उन्होंने ईश्वर को अपने स्वाथ्य लाभ के लिए धन्यवाद देते हुए इस क्रूस को संग्रहालय को दान करने का फैसला किया।

संग्रहालय में 150 से अधिक क्रूस पहले से ही प्रदर्शित किए जा रहे हैं, जो कि सांतिसिमो क्रूचिफ्स्सो देल सोकोर्सो के अभयारण्य में स्थित है। एक किसान द्वारा 1708 में पाए गए एक क्रूस को यह तीर्थालय समर्पित है, क्रूस के पाये जाने के 15 साल पहले उस स्थान पर नित्य सहायिका माता का गिरजाघर भूकंप में नष्ट हो गया था।

07 November 2020, 14:30