खोज

Vatican News
जेला में करुणा का छोटा घर जेला में करुणा का छोटा घर 

जेला में करुणा का छोटा घर : प्रकाशस्तम्भ एवं आशा, संत पापा

संत पापा ने जेला के फादर पासक्वाले दी दियो को सम्बोधित एक पत्र में कहा है कि दुःख के अंधेरे में जेला ईश्वर की कोमलता एवं करुणा का साक्ष्य है। केंद्र की स्थापना 2013 में, सिसली के सबसे वंचित लोगों के लिए कलीसिया के बाहर निकलने के उदाहरण के रूप में हुई है। जिसके द्वारा उन्हें सहयोग एवं अवसर प्रदान किये जाते हैं।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, शनिवार, 7 नवम्बर 2020 (रेई)- संत पापा ने जेला के करुणा के छोटे घर के संस्थापक फादर पासक्वालिनो दी दियो को सम्बोधित एक पत्र में कहा है कि दुःख के अंधेरे में जेला ईश्वर की कोमलता एवं करुणा का साक्ष्य है। केंद्र की स्थापना 2013 में, सिसली के सबसे वंचित लोगों के लिए कलीसिया के बाहर निकलने के उदाहरण के रूप में हुई है। जिसके द्वारा उन्हें सहयोग एवं अवसर प्रदान किये जाते हैं।

इटली के सिसली शहर स्थित जेला में स्थापित "करुणा के छोटा घर" के प्रति अपना आध्यात्मिक सामीप्य व्यक्त करने के लिए संत पापा ने अपने ही हाथों से एक पत्र लिखा है। केंद्र को उन लोगों की मदद करने के लिए बनाया गया है जो कठिनाई और अनिश्चितता में हैं। संत पापा ने पत्र में लिखा है, "पड़ोसी के प्रेम से किया गया कार्य जो कठिनाई की स्थिति में हैं, पीड़ा और त्याग के अंधेरे में एक प्रकाशस्तम्भ है। यह कलीसिया के द्वारा सराहनीय कार्य है जो अपने लोगों की कठिनाइयों में सहभागी होती है। यह सुसमाचारी उदारता एवं बाहर जानेवाली कलीसिया का एक उत्तम उदाहरण है जो कलीसियाई एवं नागरिक समाज के लिए बहुत अच्छा है।

संत पापा के साथ डॉन पासक्वालिनो दी दियो, करुणा के छोटे घर के संस्थापक
संत पापा के साथ डॉन पासक्वालिनो दी दियो, करुणा के छोटे घर के संस्थापक

संत पापा द्वारा प्रेरित घर

"करुणा के छोटे घर" की स्थापना 2013 में हुई थी जिसका विचार संत पापा फ्राँसिस के द्वारा आया था। फादर पासक्वालिनो दी दियो एक युवा पुरोहित है जो पियात्सा अर्मेनिया के हैं, 17 मार्च को संत पापा फ्राँसिस के कलीसिया के परमाध्यक्ष के रूप में पहले ख्रीस्तयाग में भाग लेने के बाद, उनके साथ मुलाकात की थी जिसमें उन्होंने अपने धर्मप्रांत की स्थिति से उन्हें अवगत कराया था। संत पापा ने उनकी बात सुनकर उन्हें ईश्वर की करुणा का चिन्ह के रूप में एक घर बनाने की सलाह दी थी। आज इस घर में कैन्टीन है, लोगों की तकलीफों को सुनने और सहयोग देने का केंद्र है, खाद्य बैंक है, कई स्वयंसेवकों के सहयोग से परामर्श दी जाती है परिवारों और बच्चों को मदद दी जाती है। स्थानीय कारितास, पल्ली और संगठन के सहयोग से इन कार्यों को संचालित किया जा रहा है।

करुणा का छोटा घर
करुणा का छोटा घर

पिता के स्नेह का साक्ष्य

संत पापा ने फादर दी दियो को लिखे पत्र में कहा, "मैं आपको और आपको सहयोगियों को अच्छे, धैर्यपूर्ण एवं प्रशंसनीय मिशन में पिता की कोमलता एवं करुणा का साक्ष्य देने का प्रोत्साहन देता हूँ जो सबसे कमजोर एवं निराश लोगों के लिए एकात्मता व्यक्त करने का कार्य है। "रफाएल" सामाजिक सहयोग केंद्र की मदद से "करुणा का छोटा घर" कमजोर लोगों के लिए एक मेडिकल क्लिनिक, शयन कक्ष, एम्पोरियम, सिलाई, बढ़ईगीरी और चीनी मिट्टी के कार्यों का संचालन करता है। मैं स्वयंसेवकों को अपनी प्रार्थना का आश्वासन देता हूँ। इसके साथ ही मेरे लिए भी प्रार्थना का आग्रह करता हूँ और सभी को अपना प्रेरितिक आशीर्वाद प्रदान करता हूँ।"  

करुणा का छोटा घर
करुणा का छोटा घर
07 November 2020, 14:57