खोज

Vatican News
मदर फ्रांसिस्का इंटरनेशनल बाइलिंगुअल एकेडमी, कुभा मदर फ्रांसिस्का इंटरनेशनल बाइलिंगुअल एकेडमी, कुभा 

संत पापा द्वारा कैमरून में मारे गये छात्रों के लिए प्रार्थना

संत पापा फ्राँसिस ने कुंभा शहर के निर्दोष विद्यार्थियों की हत्या और दुःखित परिवारों के प्रति अपनी संवेदना और सभी कैमरून वासियों के प्रति अपना स्नेह व्यक्त किया।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, बुधवार 28 अक्टूबर 2020 (वाटिकन न्यूज) : संत पापा फ्राँसिस ने वाटिकन के संत पापा पॉल छठे सभागार में आयोजित बुधवारीय आमदर्शन समारोह के दौरान कैमरुन के कुभा शहर के एक विद्यालय में छात्रों की हत्या पर अपनी संवेदना प्रकट करते हुए उनके लिए प्रार्थना की अपील की।

संत पापा ने कहा,ʺमैं उन युवा छात्रों के परिवारों के दुःख में शामिल हूँ, जिन्हें पिछले शनिवार को कैमरून के कुंभा में बेरहमी से मार दिया गया था। मैं इस तरह के क्रूर और संवेदनहीन कृत्य की सख्ती से निंदा करता हूँ, जिन्होने स्कूल में अध्ययन करते समय निर्दोष विद्यार्थियों की हत्या की है। ईश्वर उनके दिलों को आत्मज्ञान से भर दे, जिससे कि इसी तरह के क्रूर कृत्यों को फिर कभी दोहराया न जाए और कैमरून के अंग्रेजी बोलने वाले क्षेत्रों को अंततः शांति मिल सके!ʺ

संत पापा ने कहा, ʺमुझे उम्मीद है कि वहाँ की स्थिति अब शांत हैं। सभी लोगों को सुरक्षा और प्रत्येक युवा को शिक्षा और भविष्य के अधिकार की गारंटी मिले। मैं कुंभा शहर के दुःखित परिवारों और सभी कैमरून वासियों के प्रति अपना स्नेह व्यक्त करता हूँ और इस बात का आह्वान करता हूँ कि केवल ईश्वर ही आपको सांत्वना दे सकता है।ʺ

विदित हो कि अज्ञात बंदूकधारियों ने शनिवार को फियांगो कुंभा में मदर फ्रांसिस्का इंटरनेशनल बाइलिंगुअल एकेडमी पर धावा बोला और एक कक्षा में छात्रों पर गोलियां चलाईं, जिससे छह छात्रों की मौत हो गई और कई अन्य घायल हो गए।

वर्षों से अशांति

2016 के बाद से, कैमरून के कुछ हिस्सों में अशांति है क्योंकि एंग्लोफोन समूहों ने अपनी स्वतंत्रता के मांग करना शुरू कर दिया था। कैमरून के कुछ स्कूलों को चार साल से बंद के बाद हाल ही में फिर से खोल दिया गया है। अलगाववादियों ने एक स्वतंत्र राज्य के लिए लड़ाई लड़ी है वे चाहते हैं कि उनका राज्य अम्बाज़ोनिया के रूप में जाना जाए।

वर्तमान में, अधिकारी हमलावरों की पहचान नहीं कर पाए हैं और न ही वे इस कारण का पता लगाने में सक्षम हैं कि स्कूल को क्यों निशाना बनाया गया था।

28 October 2020, 14:48