खोज

Vatican News
रविवार को नये कार्डिनलों का नाम घोषित करते हुए संत पापा फ्राँसिस रविवार को नये कार्डिनलों का नाम घोषित करते हुए संत पापा फ्राँसिस  (ANSA)

संत पापा ने 13 नए कार्डिनलों के नाम की घोषणा की

28 नवंबर को, कार्डिनल मंडल में 13 नए कार्डिनल प्रवेश करेंगे। नव नियुक्त कार्डिनलों में से 9 कार्डिनल 80 वर्ष से कम उम्र के हैं, उनमें से एक असीसी में फादर माउरो गाम्बेत्ती, साक्रो कॉन्वेंट के सुपीरियर हैं।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, सोमवार 26 अक्टूबर 2020 (वाटिकन न्यूज) : काथलिक कलीसिया के कार्डिनल मंडल में अब तेरह और नए कार्डिनल प्रवेश करेंगे। उनमें से नौ की उम्र 80 वर्ष से कम हैं और इसलिए उन्हें परमाध्यक्ष के निर्वाचन सम्मेलन में भाग लेने का अधिकार है। रविवार 25 अक्टूबर को संत पापा फ्राँसिस ने संत पेत्रुस महागिरजाघर के प्रांगण में वहाँ उपस्थित विशासियों के साथ देवदूत प्रार्थना का पाठ करने के बाद 13 नये कार्डिनलों के नाम की घोषणा की।

नए कार्डिनलों में से दो रोमन कूरिया में काम करते हैं, वे हैं धर्माध्यक्षों की धर्मसभा के महासचिव, माल्टा के महाधर्माध्यक्ष मारियो ग्रेच और अल्बानो के पूर्व धर्माध्यक्ष एवं परमधर्मपीठीय संत प्रकरण परिषद के प्रीफेक्ट धर्माध्यक्ष मारचेल्लो सेमेरारो

दुनिया भर से छह अन्य धर्माध्यक्ष कार्डिनल मंडल में शामिल हो रहे हैं: चिगाली रुवांडा के महाधर्माध्यक्ष अंतोनी कांबांडा, संयुक्त राज्य अमेरिका में वाशिंगटन के महाधर्माध्यक्ष विल्टन ग्रेगरी, फिलीपींस में कैपिज़ के महाधर्माध्यक्ष जोस फ़ुएर्ते एडविनकुला,  चिली में संत्यागो के महाधर्माध्यक्ष सेलेस्टीनो एओस ब्राको, ब्रुनेई के प्रेरितिक विकार धर्माध्यक्ष कॉर्नेलियस सिम और इटली में सिएना के महाधर्माध्यक्ष ऑगस्टो पाओलो लोजुडिस। इसके अलावा, संत पापा फ्राँसिस ने असीसी के फ्रांसिस्कन साक्रो कॉन्वेंट के वर्तमान सुपीरियर माउरो गाम्बेत्ती को भी नियुक्त किया है। इन कार्डिनलों की उम्र 80 वर्ष से कम है।

 संत पापा फ्रांसिस ने चार अन्य कार्डिनलों को भी नामित किया है जो 80 वर्ष से अधिक उम्र के हैं। वे हैं: सान क्रिस्टोबाल डे लास कैसास (मैक्सिको) के सेवानिवृत महाधर्माध्यक्ष फेलिप एरीज़ेंडी एस्क्विवेल, पूर्व प्रेरितिक राजदूत महाधर्माध्यक्ष सिल्वानो तोमासी, जिनेवा में संयुक्त राष्ट्र के पूर्व स्थायी पर्यवेक्षक जिन्होंने समग्र मानव विकास को बढ़ावा देने के लिए बने विभाग में भी काम किया है,  कपुचिन फादर रानिएरो कांतालामेस्सा, संत पापा और रोमन कूरिया के उपदेशक और दिव्य प्रेम का माता मरियम तीर्थालय के प्रधान पुरोहित, फादर एनरिको फेरोची।

कार्डिनल लाल रंग के कपड़े पहनते हैं जो खुद को बलिदान करने की इच्छा को इंगित करता है, अर्थात् संत पेत्रुस के उत्तराधिकारी की सेवा में अपने स्वयं के रक्त को बहा देने के लिए तैयार हैं। भले ही वे दुनिया के सबसे दूर के क्षेत्रों में निवास करते हैं, वे रोम शहर के एक पल्ली से जुड़ जाते हैं जिस धर्मप्रांत के धर्माध्यक्ष संत पापा हैं।

26 October 2020, 16:12