खोज

Vatican News
असीसी शहर असीसी शहर 

असीसी में नए विश्व पत्र पर हस्ताक्षर करेंगे संत पापा

3 अक्टूबर को संत फ्रांसिस महागिरजाघर में पवित्र मिस्सा समारोह के बाद संत पापा फ्राँसिस एक नए विश्व पत्र पर हस्ताक्षर करेंगे। वर्तमान स्वास्थ्य सुरक्षा को देखते हुए विश्वासियों की अनुपस्थिति में मिस्सा समारोह का अनुष्ठान करेंगे।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, सोमवार 07 सितम्बर 2020 (वाटिकन न्यूज) : संत पापा फ्राँसिस 3 अक्टूबर को एक नए विश्वकोश पर हस्ताक्षर करने के लिए इतालवी शहर असीसी का दौरा करेंगे।

शनिवार को जारी एक बयान में, वाटिकन प्रेस कार्यालय के निदेशक, मत्तेओ ब्रूनी ने कहा कि भाईचारे और सामाजिक मित्रता पर आधारित नये विश्व पत्र का शीर्षक ‘फ्रातेली तुत्ती’ या "ऑल ब्रदर्स"(सभी भाई) है।

शीर्षक, जिसका आधिकारिक अंग्रेजी-भाषा संस्करण अभी तक जारी नहीं किया गया है, संत फ्रांसिस के लेखन का एक संदर्भ है: "आइए हम सभी, भाईगण, उस भले चरवाहे पर विचार करें, जो अपनी भेड़ों को बचाने के लिए क्रूस की पीड़ा को सहन किया है" (अडमोनिशन्स, 6, 1: एफ एफ155)।

3 अक्टूबर को संत पापा फ्राँसिस दोपहर को असीसी पहुंचेंगे। वहाँ वे संत  फ्रांसिस के मकबरे पर पवित्र मिस्सा का अनुष्ठान करेंगे उसके बाद विश्वपत्र पर हस्ताक्षर करेंगे। यह यात्रा निजी रूप से विश्वासियों की भागीदारी के बिना होगी।

असीसी को संत पापा का इंतजार

एक बयान में, असीसी के धर्माध्यक्ष दोमिनिको सोरेंटिनो ने कहा कि  असीसी शहर "भावना और कृतज्ञता" के साथ संत पापा फ्राँसिस के आने का इंतजार कर रहा है।

वे आगे कहते हैं, "जबकि दुनिया एक महामारी का शिकार हो रही है जिससे बहुत सारे लोगों का जीवन मुश्किल हो गया है और हमें भाइयों के लिए दर्द महसूस होता है, हम प्यार में सभी के भाई बनने की जरूरत महसूस करते हैं।"

संत पापा फ्राँसिस द्वारा लिया गया यह कदम, हमें भाईचारे के नाम पर हम सभी को एकजुट करता है और इसे 'पुनः आरंभ' करने हेतु नया साहस और शक्ति देता है।

मजिस्ट्रियम के सार

संत पापा के नए विश्वपत्र का शीर्षक उनके मैजिस्टरियम के एक केंद्रीय विषय की याद दिलाता है। 13 मार्च 2013 को परमाध्यक्ष चुने जाने के बाद उसी शाम को संत  पापा फ्राँसिस ने पहली बार "भाइयों" शब्द से विश्व के लोगों को संबोधित किया था।

भाईचारे का विषय प्रवासियों के निरंतर आलिंगन में भी मौजूद है, जो लम्पेडुसा में उनकी प्रेरितिक यात्रा में भी शामिल थी।

संत पापा फ्रांसिस द्वारा 2019 में अबू धाबी में ‘मानव बंधुत्व’ दस्तावेज़ पर हस्ताक्षर कर भाई के प्यार को बढ़ावा देने का एक और उदाहरण मिलता है।

07 September 2020, 13:49