खोज

Vatican News
द . अफ्रीका में बच्चे भोजन का इन्तजार करते हुए द . अफ्रीका में बच्चे भोजन का इन्तजार करते हुए  (ANSA)

पीड़ितों में क्रूसित मसीह के घावों के प्रति करुणा का अनुभव करें

संत पापा फ्राँसिस ने विश्व में हो रहे युद्ध हिंसा और कई तरह की आपदाओं से पीड़ित लोगों में मसीह को देखने और मदद करने हेतु सभी ख्रीस्तियों को प्रेरित किया।

माग्रेट सुनीता मिंज - वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, शनिवार 29 अगस्त 2020 (वाटिकन न्यूज) : प्रभु! हमने कब आप को भूखा देखा और खिलाया ? कब प्यासा देखा और पिलाया ? हमने कब आप को परदेशी देखा और अपने यहाँ ठहराया?...राजा उनहें यह उत्तर देंगे, ‘मैं तुम लोगों से यह कहता हूँ - तुमने मेरे इन भाइयों में से एक के लिए चाहे वह कितना छोटा क्यों न हो, जो कुछ किया, वह तुमने मेरे लिए ही किया’।(मत्ती, 25: 37-40) संत पापा फ्राँसिस ने ट्वीट कर सभी ख्रीस्तियों को गरीबों, लाचारों और जरुरतमंदों की मदद करते हुए क्रूसित प्रभु के पास्का रहस्य को जीने हेतु प्रेरित किया।

ट्वीट संदेश में उन्होंने लिखा, ʺपास्का रहस्य को हमारे जीवन के केंद्र में रखने का अर्थ है युद्ध, हिंसा और हमलों के कई निर्दोष पीड़ितों, पर्यावरणीय आपदाओं और गरीबी में जकड़े लोगों में मौजूद क्रूसित मसीह के घावों के प्रति करुणा का अनुभव करना है।ʺ

29 August 2020, 13:35