खोज

Vatican News
नोरचा के बेनेडिक्टाइन मठवासी नोरचा के बेनेडिक्टाइन मठवासी  (ANSA)

यूरोप के संरक्षक के पर्व दिवस पर संत पापा का ट्वीट संदेश

काथलिक कलीसिया आज यूरोप के संरक्षक मठाध्यक्ष संत बेनेदिक्त का त्योहार मनाती है। संत बेनेदिक्त की शिक्षा यूरोप की आध्यात्मिकता और संस्कृति को परिस्कृत करने में बहुत मदद की है। इस अवसर पर संत पापा फ्राँसिस ने ट्वीट प्रेषित कर सभी ख्रीस्तियों को विश्वास की आशा में दुनिया को बदले के लिए प्रेरित किया।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, शनिवार 10 जुलाई 2020 (वाटिकन न्यूज) : यूरोप के संरक्षक संत बेनेदिक्त के पर्व दिवस पर संत पापा ने ट्वीट कर सभी ख्रीस्तियों को संत बेनेदिक्त के नक्शे कदम पर चलते हुए विश्वास से निकली आशा के बल पर दुनिया को बदलने हेतु आह्वान किया।

संदेश में उन्होंने लिखा,ʺयूरोप के संरक्षक, संत बेनेडिक्ट,  हमें, आज के ख्रीस्तियों को दिखाते हैं कि कैसे विश्वास से प्रस्फुटित हुई खुशी की आशा हमेशा दुनिया को बदलने में सक्षम है।ʺ

संत बेनेदिक्त का जन्म सन् 480 ईस्वी में नर्सिया (इटली) में हुआ था। उन्होंने बेनेदिक्ताईन धर्मसंघ की स्थापना की और मठवासी जीवन के लिये एक नियमावली लिखी जिसे यूरोप के प्राय: सभी मठों ने स्वीकार किया। सन् 1964 ई. में संत पापा पौल 6वें ने उन्हें पूरे यूरोप का संरक्षक संत घोषित किया। उनके कार्यों की मान्यता दी और कहा कि संत बेनेदिक्त की शिक्षा यूरोप की आध्यात्मिकता और संस्कृति को परिस्कृत करने में बहुत मदद की है।

उन्होंने अपने पीछे जो विरासत छोड़ी वह हमें आमंत्रित करती है कि हम सदा ईश्वर को खोजें और ईश्वर की आज्ञाओं का पालन नम्रता पूर्वक करें, हर रोज अपनी जिम्मेदारियों को निभायें और जरुरतमंदों की मदद करें।

11 July 2020, 14:43