खोज

Vatican News
लम्पेदूसा द्वीप पर उतरते प्रवासी लम्पेदूसा द्वीप पर उतरते प्रवासी  (ANSA)

लम्पेदूसा यात्रा की 7वीं वर्षगांठ पर संत पापा का ट्वीट संदेश

8 जुलाई 2013 को, संत पापा फ्राँसिस ने रोम के बाहर इतालवी द्वीप लम्पेदूसा की पहली आधिकारिक यात्रा की थी। उस समय, सिसिली के तट से दूर अफ्रीकी महाद्वीप से खतरनाक भूमध्यसागर की खतरनाक यात्रा करने वाले प्रवासियों का एक विशाल समूह देखने को मिलता था जो छोटी नावों द्वारा इटली होते हुए यूरोप के देशों में प्रवेश करने का प्रयास करते थे।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, बुधवार 8 जुलाई 2020 (वाटिकन न्यूज) :  आज से ठीक सात साल पहले 8 जुलाई को संत पापा ने लम्पेदूसा की यात्रा प्रवासियों से मुलाकात करने और अपना सामीप्य प्रकट करने के लिए की थी। इस दिन संत पापा ने ट्वीट प्रेषित कर प्रवासियों में प्रभु के चेहरे पहचानने और उनकी मदद हेतु आगे आने के लिए प्रेरित किया।

संदेश में उन्होंने लिखा, ʺलम्पेदूसा ट्वीप की मेरी पहली प्रेरितिक यात्रा की वर्षगांठ पर, हम प्रार्थना करें कि हम येसु के चेहरे को उन लोगों में खोज कर सकें, जो अपनी मातृभूमि से भागने को मजबूर हैं क्योंकि दुनिया में बहुत सारे अन्याय और पीड़ा जारी है।ʺ

संत पापा फ्राँसिस लम्पेदूसा ट्वीप की अपनी पहली प्रेरितिक यात्रा की यादगारी में संत पापा फ्राँसिस ने आज अपने निवास भवन संत मार्था के प्रार्थनालय में रोम को समय अनुसार पूर्वाह्न 11 बजे पवित्र मिस्सा का अनुष्ठान किया और शरणार्थियों एवं प्रवासियों के लिए प्रार्थना की।

08 July 2020, 14:32