खोज

Vatican News
बुजूर्ग महिला को सांत्वना देती एक डॉक्टर बुजूर्ग महिला को सांत्वना देती एक डॉक्टर  (©Pixel-Shot - stock.adobe.com)

बुजूर्गों के खिलाफ दुर्व्यवहार पर संत पापा का ट्वीट

15 जून बुजूर्गों के खिलाफ दुर्व्यवहार पर जागरूकता दिवस पर संत पापा का ट्वीट प्रेषित कर प्रेषितकर बुजूर्गों के प्रति आदर और उचित देखभाल करने हेतु प्रेरित किया। साथ ही अनेय ट्वीट में संत पापा ने सभी से एकता के सूत्र में बंधे रहने का आग्रह किया।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, सोमवार 15 जून 2020 (रेई) : संयुक्त राष्ट्र द्वारा स्थापित बुजूर्गों के खिलाफ दुर्व्यवहार पर विश्व जागरूकता दिवस इस वर्ष कोविद-19 महामारी के बीच अधिक महत्व रखता है। 60 से ऊपर के बुजुर्गों को विशेषज्ञों ने सलाह दी है कि वे घातक वायरस के खिलाफ सावधानी बरतने के बारे में अधिक सतर्क रहें क्योंकि वे कोरोना वायरस के प्रति अतिसंवेदनशील होते हैं। बुजूर्गों के खिलाफ दुर्व्यवहार पर जागरूकता दिवस पर संत पापा फ्राँसिस ने ट्वीट प्रेषितकर बुजूर्गों के प्रति आदर और उचित देखभाल करने हेतु प्रेरित किया।

1 ट्वीट

संदेश में उन्होंने लिखा,ʺ कोविद-19 महामारी से पता चला है कि हमारे समाज में बुजूर्गों के लिए उनकी गरिमा और सम्मान के साथ पर्याप्त रूप से उचित व्यवस्था नहीं की गई हैं, जब बुजूर्गों की देखभाल नहीं की जाती है, तो युवा लोगों का कोई भविष्य नहीं होता है।ʺ

2 ट्वीट

दूसरे ट्वीट में संत पापा ने सभी से एक दूसरे को ईश्वर के पुत्र-पुत्रियों के रुप में स्वीकार करने और एकता के सूत्र में बंधे रहने हेतु प्रेरित किया।

अपने संदेश में उन्होंने लिखा,ʺपवित्र आत्मा हमें एकता के सूत्र में बांधता है और हमें याद दिलाता है कि हम सभी ईश्वर के प्यारे बच्चे हैं। वे हमारे बीच आते हैं और हमारे मतभेदों और कठिनाइयों में हमें बताते हैं कि हमारे पास प्रभु येसु और एक पिता है। इस कारण से हम भाई-बहन हैं!ʺ

15 June 2020, 14:26