खोज

Vatican News
फिलीस्तीनी गाजा, विश्व शरणार्थी दिवस फिलीस्तीनी गाजा, विश्व शरणार्थी दिवस  (AFP or licensors)

विश्व शरणार्थी दिवस पर संत पापा का द्वीट संदेश

20 जून को विश्व शरणार्थी दिवस मनाया जाता है। संत पापा फ्राँसिस ने एक ट्वीट संदेश प्रकाशित कर शरणार्थी दिवस की याद की तथा शरणार्थियों के चेहरे पर ख्रीस्त को देखने के लिए प्रेरित किया क्योंकि वे भी हेरोद के समय में विस्थापित हुए थे।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, शनिवार, 20 जून 2020 (रेई) – 20 जून को विश्व शरणार्थी दिवस मनाया जाता है। संत पापा फ्राँसिस ने एक ट्वीट संदेश प्रकाशित कर शरणार्थी दिवस की याद की तथा शरणार्थियों के चेहरे पर ख्रीस्त को देखने के लिए प्रेरित किया क्योंकि वे भी हेरोद के समय में विस्थापित हुए थे।

संत पापा ने संदेश में लिखा, "येसु सुरक्षा की खोज में पलायन करनेवाले हरेक व्यक्ति में उपस्थित हैं, जैसा कि वे हेरोद के समय में थे। उनके चेहरे पर हम ख्रीस्त के चेहरे को देखने के लिए बुलाये गये हैं जो हमसे मदद की मांग करते हैं। अंत में, हम उन्हें प्रेम और सेवा कर पाने के लिए धन्यवाद देंगे।"

विश्व शरणार्थी दिवस पर, संयुक्त राष्ट्र प्रमुख ने भी दुनिया से आह्वान किया है कि वे संघर्ष, उत्पीड़न और अन्य आपात स्थितियों को समाप्त करने के लिए हर संभव कोशिश करें, जिन्होंने लगभग 80 मिलियन लोगों को अपने घरों से निकाल दिया है।

शनिवार को शरणार्थी दिवस के लिए एक संदेश में, संयुक्त राष्ट्र महासचिव, एंटोनियो गुटेरेस, ने मेजबान समुदायों और देशों की उदारता और मानवता को मान्यता दी जो अक्सर अपने स्वयं के आर्थिक और सुरक्षा चिंताओं से जूझते हैं। उन्होंने कहा, "हम इन देशों के प्रति अपनी कृतज्ञता, समर्थन और निवेश व्यक्त करते हैं।"

गुटेर्रेस ने उन शरणार्थियों एवं विस्थापितों को भी उनके अपने जीवन के पुनर्निर्माण हेतु संसाधनशीलता और दृढ़ संकल्प तथा अपने आसपास के लोगों के जीवन को बेहतर बनाने के लिए धन्यवाद दिया।  

दूसरा ट्वीट

अपने दूसरे ट्वीट संदेश में संत पापा ने सभी डॉक्टरों एवं नर्सों के प्रति आभार व्यक्त किया। उन्होंने संदेश में लिखा, "प्यारे डॉक्टरो एवं नर्सो, दुनिया ने देखा कि आपने एक अत्यन्त कठिन परिस्थिति में बहुत अच्छा काम किया। उस समय में भी जब आप थक चुके थे, आपने लगातार अपनी क्षमता एवं आत्मत्याग के साथ, अपने आपको समर्पित किया। यह आशा जगाता है। मेरा सम्मान और ईमानदारी से धन्यवाद आपको जाता है!

संत पापा फ्राँसिस ने आज इटली के लोम्बरदिया से आये प्रतिनिधियों का भी वाटिकन में स्वागत किया। इटली का यह क्षेत्र कोरोना वायरस से बहुत अधिक प्रभावित है। 

20 June 2020, 14:56