खोज

Vatican News
ब्राजील के आदिवासी संत पापा की तस्वीर लिए हुए ब्राजील के आदिवासी संत पापा की तस्वीर लिए हुए 

संत पापा ने कोरोना वायरस संकट में ब्राजील की मदद की

संत पापा फ्राँसिस ने कोविड-19 महामारी से बुरी तरह प्रभावित ब्राजील की मदद की।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

ब्राजील, मंगलवार, 23 जून 2020 (रेई)- नोवा इग्वाकु के धर्माध्यक्ष गिलसन अंड्रेड ने संत पापा फ्राँसिस के प्रति आभार प्रकट करते हुए कहा है, "इस समय में जब एकात्मता ही कई लोगों के लिए उम्मीद का रास्ता है हम संत पापा फ्राँसिस के प्रति कृतज्ञ हैं और अत्यन्त खुश हैं कि हम उनके द्वारा मदद किये गये हैं।"  

ब्राजील के रियो दी जनेइरो में कोविड-19 महामारी से सबसे अधिक प्रभावित क्षेत्र बाक्सीदा फ्लूमिनेन्से, जिसका इतिहास गरीबी, हिंसा और लोगों के अधिकार की उपेक्षा का क्षेत्र रहा है, संत पापा फ्राँसिस ने उसके प्रति अपनी एकात्मता व्यक्त की है।

यह क्षेत्र 13 नगरपालिकाओं से बना है, जिसमें 4 काथलिक धर्मप्रांत हैं और जो सबसे अधिक सामाजिक एवं आर्थिक समस्याओं से पीड़ित है।

इस गंभीर स्वास्थ्य संकट के समय में नोवा इग्वाकू धर्मप्रांत में सार्वजनिक समारोहों एवं प्रेरितिक गतिविधियों को रोक दिया गया है किन्तु खासकर, धर्मप्रांतीय करीतास, मानव अधिकार केंद्र, सामाजिक कार्य, पल्ली की योजनाएँ और विश्वासियों द्वारा जरूरतमंद परिवारों की मदद हेतु उदारता के कार्यों में वृद्धि हुई है।

धर्मप्रांत के इस सभी कार्यों को अधिक मजबूत करने के लिए संत पापा फ्राँसिस ने 10,000 यूरो दान किये हैं। संत पापा के इस उदार दान का प्रयोग खाद्य सामग्री और स्वच्छता किट खरीदने में किये गये हैं। उन सामानों को रियो दी जनेइरो के सबसे जरूरतमंद लोगों के बीच बांट दिया गया है।

नोवा इग्नाकू के धर्माध्यक्ष गिलसन ने संत पापा फ्राँसिस के प्रति आभार प्रकट करते हुए कहा है कि इस समय में जब बहुत सारे लोगों के लिए एकात्मता ही उम्मीद का रास्ता है हम संत पापा फ्राँसिस के प्रति कृतज्ञ हैं और बहुत खुश हैं कि हम संत पापा की बहुमूल्य मदद के योग्य गिने गये। वे एक ऐसे चरवाहे हैं जिन्होंने विश्व को जगाया है ताकि दूसरों की पीड़ा में कोई भी उदासीन न रहे।

कलीसिया न केवल भौगोलिक रूप से लोगों के करीब है बल्कि उनके साथ उनके वास्तविक जीवन में शामिल है। पुरोहितों ने कठिनाई के समय अनेक भाई-बहनों की मदद की है। संत पापा की उदारता ने लोगों के जीवन में आनन्द और आशा भर दिया है। जिसके कारण हम अपने समुदाय में एकता में अधिक मजबूती अनुभव कर रहे हैं। उनकी उदारता हमारे लिए प्रोत्साहन है कि हम अनिश्चितता एवं पीड़ा के समय में लोगों की मदद करने का रास्ता खोजें।

23 June 2020, 15:37