खोज

Vatican News
ढाका की एक माँ अपने बच्चे के साथ ढाका की एक माँ अपने बच्चे के साथ  (ANSA)

संत पापा ने माताओं को कृतज्ञता और स्नेह के साथ याद किया

संत पापा ने ट्वीट कर सभी माताओं को याद किया। दुनिया भर में लॉकडाउन ने, माताओं और उनके बच्चों को अलग कर दिया है। जैसा कि 10 मई को परिवारों में माताओं का त्योहार मनाया जाता है, हम कलीसिया की माता मरियम और उन सभी माताओं को याद करते हैं जो परीक्षण के इस समय में पीड़ित हैं।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, सोमवार 11 मई 2020 (वाटिकन न्यूज) : विश्व के कई देशों में मई महीने का दूसरा रविवार ‘मदर्स डे’ माताओं का दिवस मनाया गया। हालाँकि यह एक देश से दूसरे देश में और यहाँ तक कि एक परिवार से दूसरे परिवार में अलग-अलग तरीके के मनाया जाता है, यह हमारी माताओं द्वारा हमारे लिए किए गए सभी बलिदानों को सम्मान करने का दिन है।

ट्वीट संदेश

इस दिन संत पापा फ्राँसिस ने अपने ट्वीट संदेश में लिखा,ʺ आज, कई देशों में, माताओं का त्योहार मनाया जाता है। मैं सभी माताओं को कृतज्ञता और स्नेह के साथ याद करना चाहता हूँ, उन्हें मरियम, हमारी स्वर्गीय माँ की सुरक्षा में सौंपता हूँ। हम उन माताओं को भी याद करते हैं जो स्वर्ग से हमारा साथ देती हैं।ʺ

संत पापा फ्राँसिस ने एक बार कहा था कि मानवता "माताओं पर निर्मित" है और उनका प्यार दुनिया के लिए एक इलाज है, जिसे अक्सर विभाजित किया जाता है और कड़वाहट से भर दिया जाता है। उन्होंने कहा कि एक माँ की वीरता आत्म-सम्मान, "करुणा शक्ति" और "नम्रता के ज्ञान" में है।

शांतिदूत

संत पापा फ्राँसिस ने माताओं को शांतिदूतों के रूप में वर्णित करते हुए कहा कि माताएँ "अपने बच्चों को बिना शर्त प्यार करती हैं सदा अपना बलिदान करती, वे "व्यक्तिवाद के विरोधी हैं और वे युद्ध के सबसे बड़े दुश्मन हैं।” उन्होंने कहा कि माँ मरियम ने भी, "कई मुश्किल क्षणों को देखा" और एक अच्छी माँ की तरह वह हम बच्चों के करीब है, "ताकि हम जीवन की प्रतिकूलताओं में कभी भी हिम्मत न हारें।"

माता मरियम

संत पापा ने कहा कि मई का महीना माता मरियम को समर्पित है। संत पापा पॉल छठे ने 1964 में उन्हें कलीसिया की माता से सम्मानित किया। ईश्वर को एक माता की जरुरत थी। येसु ने खुद अपनी माता को हमें दिया। "वे शांति की रानी हैं, जो बुराई पर विजय प्राप्त करतीं और हमें अच्छाई के मार्ग पर ले जाती हैं, जो अपने बच्चों के लिए एकता बहाल करती हैं और हमें दयालु बनना सिखाती हैं।"

संत पापा ने दुनिया भर के विश्वासियों को मारिया को समर्पित मई महीने में रोज़री प्रार्थना करने के लिए आमंत्रित किया है। उन्होंने कहा कि " माँ मरियम के दिल के साथ मसीह के चेहरे पर चिंतन, हमें आध्यात्मिक परिवार के रूप में और भी अधिक एकजुट करेगा और हमें परीक्षण के इस समय को दूर करने में मदद करेगा।"

महामारी के दौरान मदर्स डे

दुनिया भर के देशों को कोविद-19 कोरोनवायरस के कारण सख्त लॉकडाउन उपायों का सामना करना पड़ रहा है, अतः इस वर्ष मातृ दिवस को थोड़ा अलग तरीके से महसूस किया गया। इस तालाबंदी में अपने बच्चों के साथ घर में रहने वाली माताएँ पर्याप्त भाग्यशाली रही हैं, लेकिन कई माताएँ खुद को अलग-थलग पा रही हैं और कुछ मामलों में अपनों से बहुत दूर हैं।

भावी माताएँ

महामारी से सबसे अधिक प्रभावित होने वाली माताओं में से कुछ गर्भवती माताएँ हैं। 7 मई को जारी एक बयान में, संयुक्त राष्ट्र बाल कोष (यूनिसेफ) ने अनुमान लगाया कि आपातकाल की अवधि में लगभग 116 मिलियन बच्चे पैदा होंगे।

 यूनिसेफ के कार्यकारी निदेशक, हेनरीटा फोर ने कहा, "दुनिया भर में लाखों महिलाओं ने दुनिया में मातृत्व की यात्रा शुरू की, उन्हें "दुनिया में एक जीवन लाने के लिए तैयार रहना चाहिए। उन्होंने कहा कि कई गर्भवती माताएँ संक्रमण के डर से स्वास्थ्य केंद्रों में जाने से डर रही हैं।

कोरोनवायरस की शुरुआत के बाद से, घर में ही बच्चे को जन्म देने की दर वास्तव में बढ़ी है, क्योंकि अधिक माताएं अपने घरों को अस्पताल जाने की तुलना में अधिक सुरक्षित विकल्प चुनती हैं।

11 May 2020, 16:41