खोज

Vatican News
महामारी के बाद लगे लाॉकडाऊन से उत्पन्न कठिनाइयों का सामना करते आप्रवासी महामारी के बाद लगे लाॉकडाऊन से उत्पन्न कठिनाइयों का सामना करते आप्रवासी   (AFP or licensors)

पीड़ितों के बीच कोई अन्तर नहीं

कोविद-19 महामारी के सन्दर्भ में सन्त पापा फ्राँसिस ने इस बात पर बल दिया है कि पीड़ितों के बीच किसी प्रकार की सीमा अथवा किसी प्रकार का अन्तर नहीं होता है।

जूलयट जेनेवीव क्रिस्टफर-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, शुक्रवार, 24 अप्रैल 2020 (रेई,वाटिकन रेडियो): कोविद-19 महामारी के सन्दर्भ में  सन्त पापा फ्राँसिस ने इस बात पर बल दिया है कि पीड़ितों के बीच किसी प्रकार की सीमा अथवा किसी प्रकार का अन्तर नहीं होता है।  

असमानताओं एवं अन्याय को ख़त्म करें

गुरुवार 23 अप्रैल को प्रकाशित एक ट्वीट सन्देश में सन्त पापा फ्राँसिस ने लिखाः "यह महामारी हमें स्मरण दिलाती है कि पीड़ित लोगों के बीच किसी प्रकार का अन्तर या किसी प्रकार की सीमा नहीं होती हैं। हम सब दुर्बल हैं, सभी समान हैं, सभी अनमोल हैं। जो कुछ इस समय हो रहा है उससे हम गहनतम ढंग से प्रभावित हुए हैँ: अब समय आ गया है कि कि हम असमानताओं को ख़त्म करें और सम्पूर्ण मानव परिवार के स्वास्थ्य को गौण करने वाले अन्याय से विश्व को मुक्त  करें।"  

24 April 2020, 10:26