खोज

Vatican News
संत पापा फ्राँसिस एवं अन्य पुरोहित संत पापा फ्राँसिस एवं अन्य पुरोहित  (ANSA)

संत पापा द्वारा कोविड-19 आपातकालीन कोष की स्थापना

संत पापा फ्राँसिस ने कोविड -19 से बुरी तरह प्रभावित लोगों की मदद हेतु एक आपातकालीन कोष की स्थापित की है।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, मंगलवार, 7 अप्रैल 2020 (रेई)- संत पापा फ्राँसिस ने कोविड -19 से बुरी तरह प्रभावित लोगों की मदद हेतु एक आपातकालीन कोष की स्थापित की है।

परमधर्मपीठीय मिशन सोसाईटी के सूचना सेवा विभाग, अजेंसिया फिदेस द्वारा सोमवार को जारी एक बयान में घोषित किया गया है कि संत पापा फ्राँसिस ने परमधर्मपीठीय मिशन सोसाईटी में एक आपातकालीन कोष की स्थापना की है। इस कोष के द्वारा उन लोगों और समुदायों की मदद की जायेगी जो कोविड 19 से बुरी तरह प्रभावित हैं। बयान में कहा गया है कि सहायता राशि मिशन देशों को कलीसिया की संरचनाओं एवं संस्थाओं द्वारा प्रदान की जायगी।

सुसमाचार प्रचार को प्रोत्साहन देने हेतु गठित परमधर्मपीठीय धर्मसंघ के अध्यक्ष कार्डिनल ताग्ले ने इस कोष के बारे कहा, “सुसमाचार प्रचार के अपने कार्यों में, कलीसिया बहुधा मानव कल्याण हेतु बड़े खतरों का सामने करने में पहली पंक्ति पर होती है। सिर्फ अफ्रीका में 74,000 धर्मबहनें और 46,000 पुरोहित 7,274 अस्पताल और क्लिनिक चला रहे हैं। वे वृद्ध और विकलांग लोगों की मदद करने हेतु 2,346 केंद्रों की देखभाल करते तथा 19 मिलियन से अधिक बच्चों को 45,088 प्राथमिक स्कूलों में शिक्षा देते हैं। कई ग्रामीण क्षेत्रों में केवल वे ही चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सुविधा प्रदान करते हैं। संत पापा आगे की चुनौतियों का सामना करने हेतु पूरी कलीसिया के नेटवर्क का आह्वान कर रहे हैं।”

संत पापा का पहला योगदान

संत पापा फ्राँसिस ने न केवल कोष की स्थापना की है बल्कि वे प्रथम योगदान देने वाले हैं। उनका पहला योगदान 7,50,000 यूएस डॉलर है। वे कलीसिया की सभी संस्थाओं एवं व्यक्तियों का आह्वान करते हैं कि वे हरेक देश के परमधर्मपीठीय मिशन सोसाईटी के माध्यम से इस फंड की मदद करें।

फंड का उद्देश्य

महाधर्माध्यक्ष दल तोसो ने कहा, “इस फंड का उद्देश्य है, मिशन क्षेत्र में कलीसिया की उपस्थिति को सहयोग देना, जो कोरोना वायरस के प्रभाव से पीड़ित हैं। कलीसिया द्वारा सुसमाचार प्रचार के कार्यों एवं हमारे विस्तृत नेटवर्क के माध्यम से सहायता करने के द्वारा हम दिखा सकते हैं कि कोई भी इस संकट में अकेला नहीं है। इस भावना से कलीसिया की संस्थाएँ और मिशनरी बड़ी भूमिका निभाते हैं। यह संत पापा का निमंत्रण है कि कोष की स्थापना की जाए। जब बहुत सारे लोग पीड़ित हैं, हम उन लोगों की याद करते हैं और उन लोगों तक पहुँचने का प्रयास करते हैं जिनकी देखभाल करनेवाला कोई नहीं है। इस तरह हम उनके लिए पिता ईश्वर का प्रेम प्रकट करते हैं। मैं हमारे परमधर्मपीठीय मिशन सोसाईटी के नेटवर्क का आह्वान करता हूँ जो विश्व के विभिन्न धर्मप्रांतों में है कि वे संत पापा के इस महत्वपूर्ण निमंत्रण का समर्थन करने का हरसंभव प्रयास करें।”

परमधर्मपीठीय मिशन सोसाईटी

परमधर्मपीठीय मिशन सोसाईटी के द्वारा संत पापा 1,110 से अधिक धर्मप्रांतों की मदद करते हैं। वे धर्मप्रांतों एशिया, अफ्रीका, ओशिनिया और अमाजोन क्षेत्र के कुछ भागों में स्थित हैं।

किस तरह योगदान दिया जाए

जो सहयोग देना चाहते हैं वे बैंक के माध्यम से इस नम्बर पर सहयोग राशि जमा कर सकते हैं-

Bank Wire- IT84F0200805075000102456047 (SWIFT UNCRITMM)

For: Amministrazione Pontificie Opere Missionarie,

Indicating: Fund Corona-Virus

07 April 2020, 15:31