खोज

Vatican News
कोरोना वायरस -इटली के लोग कोरोना वायरस -इटली के लोग  (ANSA)

संत पापा का 16 मार्च का ट्वीट संदेश

संत पापा ने सोमवार को 3 ट्वीट प्रेषित कर इस कठिन स्थिति में परिवारों की प्यार की नई अभिव्यक्तियों की खोजने के लिए प्रेरित किया। उन्होंने चालीसा काल में अपना हृदय परिवर्तन कर नये जीवन की शुरुआत करने को कहा।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, सोमवार 16 मार्च 2020 (रेई) : संत पापा फाँसिस कोरोना वायरस महामारी के प्रसार को रोकने हेतु अपने घरों में बंद बच्चों और परिवारों के लिए चिंतित हैं और इस कठिन परिस्थिति में भी स्नेह को पुनः प्राप्त करने के सुंदर अवसर का लाभ उठाने हेतु प्रेरित किया ।

उन्होंने ट्वीट संदेश में लिखा," प्रभु इस स्थिति में प्यार की नई अभिव्यक्तियों की खोज करने के लिए परिवारों की मदद करे। यह समय परिवार में रचनात्मकता के साथ सुंदर संबंध खोजने का एक अवसर है। आइए, हम एक साथ प्रार्थना करें ताकि परिवार में रिश्ते हमेशा अच्छाई के लिए पनपें।"

दूसरा ट्वीट

संत पापा फ्राँसिस ने दैनिक जीवन में रोजमर्रा के कामों में ईश्वर की उपस्थिति को पहचानने हेतु सभी लोगों को प्रेरित करते हुए दूसरा टवीट किया, "ईश्वर हमेशा सरल चीजों के माध्यम से कार्य करते हैं... रोजमर्रा के काम की सरलता ... प्रार्थना की सादगी ... सरल चीजों के माध्यम से ईश्वर अपने प्रकट करते हैं। इसके बजाय, सांसारिक आत्मा हमें घमंड और दिखावे की ओर ले जाती है और ये दोनों हिंसा को प्रेरित करते हैं।"

तीसरा ट्वीट

चालीसा के इस पुण्यकाल में संत पापा ने हृदय परिवर्तन कर नये तरीके से जीवन जीने हेतु प्रेरित करते हुए तीसरे ट्वीट में लिखा, "पश्चताप करें, दूसरे शब्दों में अपना जीवन बदलें। (मत्ती 4:17) जीवन जीने का एक नया तरीका शुरू हो गया है। एक समय था जब आप अपने लिए जीते थे, अब ईश्वर के लिए और ईश्वर के साथ तथा दूसरों के लिए और दूसरों के साथ प्यार से जीने का समय है।"

16 March 2020, 14:18