खोज

Vatican News
दुर्लभ बीमारी दिवस दुर्लभ बीमारी दिवस 

वाटिकन ने दुर्लभ बीमारी से पीड़ितों के प्रति एकात्मता की मांग की

फरवरी माह के अंतिम दिन को दुर्लभ बीमारी दिवस के रूप में मनाया जाता है। अनुमान है कि दुनिया में 300 मिलियन से अधिक लोग 6,000 से अधिक दुर्लभ बीमारियों से पीड़ित हैं।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, शनिवार, 29 फरवरी 2020 (रेई)˸ वाटिकन ने अंतरराष्ट्रीय समुदाय से अपील की है कि वह स्वास्थ्य संबंधी नीतियों में प्रतिस्थापन और एकात्मता के काथलिक सामाजिक सिद्धांतों को लागू करे, ताकि दुर्लभ बीमारी से पीड़ित रोगियों और उनके परिवार वालों को विशिष्ट सहायता और देखभाल प्रदान किया जा सके और उन्हें समाज का हिस्सा महसूस कराया जा सके।

संत पापा फ्राँसिस ने शनिवार को ट्वीट प्रेषित कर लिखा, "दुर्लभ रोग दिवस हमें एक अवसर देता है कि हम हमारे उन भाई-बहनों की सेवा एक साथ करें, जो बीमार हैं ताकि अनुसंधान, चिकित्सा देखभाल और सामाजिक सहयोग को एकीकृत किया जा सके जिससे कि वे भी समान अवसर का लाभ उठा सकें एवं एक पूर्ण जीवन जी सकें।"  

समग्र मानव विकास को बढ़ावा देने हेतु गठित परमधर्मपीठीय परिषद के अध्यक्ष कार्डिनल पीटर टर्कशन ने शनिवार को दुर्लभ बीमारी दिवस के अवसर पर एक संदेश भेजते हुए अपील की।

गरीब देशों में दुर्लभ बीमारी

कार्डिनल टर्कशन ने अपने संदेश में कहा कि बहुधा दुर्लभ बीमारियों के कारण रोगी और उनके परिवार वाले भयभीत रहते, अकेलापन एवं असहाय महसूस करते और अक्सर उन्हें विशिष्ट उपचार और उचित देखभाल प्राप्त करने में कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है। यह स्थिति उन सभी देशों में और भी गंभीर है जहां स्वास्थ्य प्रणाली अधिक कमजोर है।

इस बात पर जोर देते हुए कि स्वास्थ्य का अधिकार एक आधारभूत अधिकार है एवं देखभाल किया जाना न्याय का सवाल है कार्डिनल ने कहा कि आर्थिक संसाधनों के असमान वितरण, खासकर, कम आय वाले देशों में, स्वास्थ्य न्याय की गारंटी नहीं देता जिसके द्वारा हर व्यक्ति की गरिमा और स्वास्थ्य की रक्षा हो सके, विशेषकर, सबसे गरीब लोगों को।

प्रतिस्थापन एवं एकात्मता

कार्डिनल ने कहा कि प्रतिस्थापन एवं एकात्मता का सिद्धांत, अंतरराष्ट्रीय समुदाय के साथ-साथ स्वास्थ्य नीतियों को भी प्रेरित करे ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि कुशल स्वास्थ्य प्रणाली, निदान और उपचार के लिए समान पहुंच और रोगियों तथा उनके परिवारों के लिए विशिष्ट समर्थन और देखभाल की गारंटी मिल सके।

 

29 February 2020, 17:10