खोज

Vatican News
माल्टा प्रर्यावरण माल्टा प्रर्यावरण 

31 मई को संत पापा की माल्टा प्रेरितिक यात्रा

वाटिकन प्रेस ने 10 फरवरी को संत पापा फ्रांसिस की माल्टा प्रेरितिक यात्रा की घोषणा की।

दिलीप संजय एक्का-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, सोमवार, 10 फरवरी 2020 (रेई) वाटिकन प्रेस प्रवाक्ता मत्तेओ ब्रुनी ने इस बात की जानकारी दी कि संत पापा फ्रांसिस वर्ष 2020 में अपनी प्रेरितिक यात्राओं के क्रम में 31 मई को माल्टा जायेंगे।

“माल्टा गणराज्य के राष्ट्रपति, सरकारी और कलीसिया के अधिकारियों की ओर से प्रेषित निमंत्रण पत्र को स्वीकार करते हुए 10 फरवरी को वाटिकन प्रेस ने इस समाचार की घोषणा की कि संत पापा फ्रांसिस माल्टा और गोजो की प्रेरितिक यात्रा 31 मई 2020 को करेंगे। प्रेरितिक यात्रा के दौरान कार्यक्रमों की रुपरेखा अपने निर्धारित समय में प्रकाशित की जायेगी।

इस प्रेरितिक यात्रा हेतु तैयार किया प्रतीक चिन्हृ जहाँ हाथों को दिखाया गया है जो क्रूस की ओर इंगित करता है, जहाज पर, लहरों की दया कार्य करती है। हाथ हमारे लिए ख्रीस्तीय के खुले हृदय की ओर ध्यान आकर्षित कराता है जो कठिनाई में अपने पड़ोसी के सेवा हेतु तैयार रहते हैं, जो अपनी दुर्शा में छोड़ दिये जाते हैं। नाव हमें माल्टा के द्वीप में संत पौलुस के साथ हुई जहाज डूबने की घटना की याद दिलाती है। प्रेरित. 27, 27-44) यह हमें माल्टा निवासियों द्वारा प्रेरित और जहाज में उनके साथ यात्रा कर रहे लोगों के बारे में बतलाती है। (प्रेरि. 28.1-10) हाल ही में संत पापा फ्रांसिस ने अपने आमदर्शन समारोह के अवसर पर संत पौलुस और उनके साथ सह-यात्रियों का माल्टा पहुँचने का जिक्र किया था। इस प्रेरितिक यात्रा का आदर्श वाक्य है, “उन्होंने हमें अद्वितीय करूणा प्रदर्शित किया” है। (प्रेरि. 28,2)

इसके पहले दो संत पापाओं ने माल्टा की अपनी प्रेरितिक यात्रा कीः संत पापा योहन पौलुस द्वितीय ने सन् 1990 में, 25 से 27 मई को की थी, वहीं सेवानिवृत संत पापा बेनेदिक्त 16वें ने 18 अप्रैल 2010, को माल्टा की अपनी प्रेरितिक यात्रा की।

10 February 2020, 16:39